निर्वाचन की घाेषणा:जिला परिषद की स्थाई समितियाें में निर्विराेध बने भाजपा समर्थित अध्यक्ष

सीकर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दूसरे दलाें के समर्थित सदस्याें ने अध्यक्ष पद के लिए नहीं जताई दावेदारी

दाे दिन तक चली जिला परिषद में स्थाई समितियाें के गठन की प्रक्रिया शनिवार काे अध्यक्षाें के निर्विराेध चुनाव के बाद पूरी हाे चुकी है। खास बात ये रही कि नामांकन की प्रक्रिया पूरी हाेने के महज 30 मिनट में ही निर्वाचन अधिकारी सीओ सुरेश कुमार ने सभी समितियाें के अध्यक्षाें के निर्वाचन की घाेषणा कर दी।

पीईओ नथूराम मीणा ने बताया कि वित्त एवं कराधान, शिक्षा समिति, विकास एवं उत्पादन व सामाजिक सेवाएं एवं न्याय समिति के अध्यक्ष के लिए केवल निर्वाचित चार सदस्याें ने ही आवेदन किए। आवेदन प्रक्रिया सुबह 10 से 11 बजे तक चली। 11 से दाेपहर 12 बजे तक आवेदनाें की जांच की गई। 12.30 बजे तक नामवापसी का वक्त दिया गया।

निर्वाचन अधिकारी ने सभी चार समितियाें के अध्यक्षाें के निर्विराेध निर्वाचन की घाेषणा की। जिला प्रमुख के बाद परिषद में सभी स्थायी समितियाें पर भी भाजपा समर्थित अध्यक्षाें का ही कब्जा रहा है। नियमानुसार प्रशासन एवं स्थापना समिति तथा ग्रामीण विकास समिति अध्यक्ष जिला प्रमुख गायत्री कंवर रहेगी।

वहीं वित्त एवं कराधान समिति अध्यक्ष वीना वर्मा, शिक्षा समिति अध्यक्ष इंद्रा चाैधरी, विकास एवं उत्पादन समिति अध्यक्ष गणपति बाटड़, सामाजिक सेवा एवं न्याय समिति अध्यक्ष पद पर सुमित कुमार काे निर्विराेध निर्वाचित घाेषित किया गया।

आगे: सितंबर के पहले सप्ताह में हाे सकती है पहली बैठक

समितियाें के गठन के बाद जिला परिषद द्वारा अब जल्द ही सभी स्थायी समितियाें की बैठक बुलाई जाएगी। जिला प्रमुख गायत्री कंवर के अनुसार यदि सबकुछ सही रहा ताे समितियाें की पहली बैठक सितंबर के पहले सप्ताह तक बलाने का प्रयास किया जाएगा। बैठक में संबंधित समितियाें के सदस्याें की माैजूदगी में विभिन्न प्रस्तावाें काे लेकर चर्चा की जाएगी।

खबरें और भी हैं...