पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वारदात:नौकरी का लालच देकर चेन्नई बुलाया किडनी निकाली; 14 महीने बंधक रखा

सीकर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सीकर के युवक ने जयपुर में केस दर्ज करवाया, रिपोर्ट चेन्नई भेजी

नौकरी का लालच देकर सीकर से चेन्नई बुलाए गए युवक को पैसे का लालच और धमकी देकर किडनी निकालने का मामला सामने आया है। पीड़ित युवक न्याय के लिए जयपुर निवासी परिवार के घर के बाहर धरने पर बैठ गया। सीकर के माजीपुरा निवासी रविंद्र सिंह शुक्रवार देर शाम बजाज नगर थाने पहुंचा तो पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करके जांच के लिए चेन्नई भेज दी। पीड़ित ने रिपोर्ट दी कि पिछले साल जनवरी में अनिमेष नाम के व्यक्ति ने नौकरी लगाने के बहाने चेन्नई बुलाया था। वहां अनिमेष ने बताया कि नौकरी से पहले मेडिकल टेस्ट होगा। इसलिए आरोपियों ने पीड़ित का तीन हॉस्पिटल में मेडिकल करवाया।

करीब दो माह बाद अनिमेष ने एक हॉस्पिटल में जयपुर निवासी राजीव जौहरी, अनिता जौहरी व सुधीर जौहरी ने मुलाकात करवाई। पीड़ित ने आरोपी से नौकरी के संबंध में पूछा तो बताया कि नौकरी नहीं, तुम्हें किडनी देने के बुलाया था। राजीव से तेरी किडनी मैच हुई है। पीड़ित ने मना किया तो पहले मारने की धमकी दी और उसके बाद 15 लाख रुपए, नौकरी व लाइफटाइम इलाज कराने का लालच देकर किडनी ट्रांसप्लांट करवा ली। इस दाैरान मोबाइल छीनकर कुछ दिन तक एक फ्लैट में बंद रखा।

जिसको किडनी लगाई उसी के घर के बाहर धरना

आरोपियों ने किडनी ट्रांसप्लांट करवाकर हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद जयपुर पहुंचने पर पैसे और नाैकरी देने का लालच देकर इस साल 10 मार्च को वापस भेज दिया। 14 महीने चेन्नई में गुजारने के बाद पीड़ित सीधा गांव पहुंच गया। आरोपियों से संपर्क किया तो किसी ने फोन रिसीव नहीं किया। पीड़ित जयपुर आकर मिला तो फिर धमका दिया।

पीड़ित थाने पहुंचा तो आरोपी भी पीछे-पीछे थाने पहुंच गए और जल्द ही पैसे देने का लालच देकर पीड़ित को कुछ देकर वापस गांव भेज दिया। आरोपियों ने पीड़ित को धमकाकर झूठा राजीनामा लिखवा लिया। 21 मई काे पीड़ित जयपुर में राजीव के घर गया तो ताला लगा हुआ मिला। फोन भी बंद आ रहा है। अब पीड़ित घर के बाहर धरने पर बैठ गया। पीड़ित ने विषाक्त खाने का प्रयास भी किया था।

खबरें और भी हैं...