• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Congress Party Leaders And Workers Took Out Candle March, Demanding The Execution Of Union Minister Of State For Home Ajay Mishra's Son

अन्नदाता पर अत्याचार बर्दाश्त नहीं करेगी कांग्रेस:लखीमपुर खीरी घटना के विरोध में कार्यकर्ताओं ने निकाला कैंडल मार्च,केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे को सजा देने की मांग

सीकर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कैंडल मार्च निकलते हुए। - Dainik Bhaskar
कैंडल मार्च निकलते हुए।

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में किसानों और भाजपा नेताओं के बीच हुए विवाद का मामला लगातार सुर्खियों में बना हुआ है। घटना के विरोध में किसान समर्थक संगठन और विपक्षी राजनीतिक दल लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। सीकर में बुधवार रात शहर कांग्रेस कमेटी के बैनर तले पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने कैंडल मार्च निकाला। जो शहर के जाट बाजार से शुरू होकर कल्याण सर्किल पहुंचा। मार्च में शामिल लोगों ने केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

केंद्र सरकार तानाशाही रवैया
पार्टी नेता और नगर परिषद सभापति जीवण खां ने कहा कि पहले तो केंद्र सरकार किसान विरोधी तीनों काले कानून लेकर आई। इसके विरोध में पिछले कई महीनों से देश भर के अन्नदाता दिल्ली बॉर्डर पर बैठकर आंदोलन कर रहे हैं। केंद्र सरकार तानाशाही रवैया अपनाते हुए उनसे बात करने को तैयार नहीं है बल्कि अलग-अलग हथकंडे अपनाकर आंदोलन को तोड़ने का काम करती जा रही है।
रविवार को पार्टी के नेता और केंद्र सरकार के गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे ने किसानों पर गाड़ी चला दी। जिसके कारण 4 किसानों की मौत हो गई और करीब 15 किसान गंभीर रूप से घायल हो गए।

घटना के बाद जब पार्टी की नेता प्रियंका गांधी वहां पहुंची तो उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया गया। जीवण खां ने कहा कि देश के अन्नदाता पर हो रहे अत्याचार को बर्दाश्त नहीं करेंगे। या तो केंद्र सरकार अपने इससे किसान विरोधी रवैये से बाज आ जाए वरना कांग्रेस पार्टी बड़ा आंदोलन शुरू करेगी। शहर विधायक राजेंद्र पारीक ने कहा कि लखीमपुर खीरी में भाजपा के नेताओं ने जिस तरह किसानों पर अत्याचार किया है। वह घटना नहीं बल्कि एक साजिश के तहत पूरे घटनाक्रम को अंजाम दिया गया था।