पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Corona Infection; For The First Time This Year, A Record 35 Positive Corona Invitations In 1 Day, The Department Is Not Taking Samples Even For Positive Family Members.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना संक्रमण:इस साल पहली बार 1 दिन में रिकॉर्ड 35 पॉजिटिव कोरोना निमंत्रण, विभाग पॉजिटिव के घरवालों तक के सैंपल नहीं ले रहा

सीकर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में नए साल में सोमवार को रिकार्ड 35 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। इनमें सबसे ज्यादा 18 सीकर शहर के हैं। एक जेल का बंदी भी पॉजिटिव मिला है। अब तक पॉजिटिव की संख्या 9715 हो चुकी है। इनमें से 9408 स्वस्थ हो चुके है। एक्टिव मरीजों की संख्या भी पार कर 204 पहुंच चुकी है। सोमवार को पॉजिटिव मिले मरीजों में 2 हैल्थ वर्कर्स भी शामिल हैं। सोमवार को फतेहपुर, कूदन और नीमकाथाना, श्रीमाधोपुर ब्लॉक में एक-एक पॉजिटिव मिला है।

पिपराली में 3, दांता व लक्ष्मणगढ़ में 5-5 नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। खाटूश्यामजी में लिए रैण्डम सैम्पल में चार, क्लोज कांटेक्ट में आने से 6, लक्षणात्मक 14 और अन्य राज्यों से जिले में आए तीन व्यक्ति पॉजिटिव मिले है। रेंडम सैम्पल में पांच व्यक्ति पॉजिटिव मिले है।

अब तक 1 लाख 81 हजार 114 सैंपलों की जांच की गई है। जिनमें 1 लाख 68 हजार 557 की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। 992 सैम्पल प्रक्रियाधीन हैं। जिले की रिकवरी दर 96.84 प्रतिशत है। सोमवार को जिलेभर में 978 सैम्पल लिए गए। गौरतलब है कि इससे 1 अप्रैल व 27 मार्च को भी 30-30 पॉजिटिव मिले थे। जिले में कोरोना वायरस एक बार फिर घातक हो गया है। चार दिन में कोरोना से दो लोगों की मौत हो चुकी है। दोनों में कोई लक्षण नहीं थे, इसलिए समय पर दोनों का इलाज नहीं हुआ। संक्रमण की जानकारी मिली तब तक देर हो चुकी थी। दोनों की अलग-अलग हॉस्पिटलों में इलाज के दौरान मौत हो गई।

संक्रमण बढ़ने के पीछे एक बड़ी वजह है कि जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग का कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग सिस्टम खत्म हो चुका है। पॉजिटिव मिल रहे मरीजों की भी कोई खोज खबर नहीं ली जा रही है। मरीजों को खुद दवा का इंतजाम करना पड़ रहा है। पॉजिटिव के घरवालों तक के सैंपल नहीं लिए जा रहे। इसके अलावा जिले में रेंडम सैंपलिंग भी नहीं की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग बस स्टैंड, भीड़-भाड़ वाले बाजारों, व्यापारियों, ठेला चालकों समेत हाईरिस्क जोन में काम रहे लोगों की सैंपलिंग नहीं कर रहा है, ऐसे में संक्रमण की सही स्थिति का आंकलन नहीं हो पा रहा है।

4 उदाहरण लापरवाही के : मरीज खुद बाजार जाकर ला रहे हैं दवा
1. सीकर शहर के वार्ड 57 की युवती 2 दिन पहले पॉजिटिव मिली। वह होम आईसोलेट है। स्वास्थ्य विभाग ने पॉजिटिव युवती के बच्चों और दूसरे परिजनों के सैंपल नहीं लिए। दवा भी युवती खुद बाजार से लाई। हालांकि युवती के परिजनों में कोई लक्षण नहीं है। फिलहाल जिस वायरस की
मौजूदगी है, उसमें कम ही लोगों को लक्षण आ रहे है।
2. सीकर के वार्ड 31 का युवक 14 दिन पहले हैदराबाद से घर पहुंचा। पत्नी के बीमार होने के कारण उसका निजी हॉस्पिटल आना जाना था। युवक ने तीन दिन पहले जांच कराई तो पॉजिटिव मिला। विभाग ने युवक के क्लोज कांटेक्ट में आने वालाें की दूर उसकी पत्नी, बच्चों व दूसरे परिजनों के सभी सैंपल नहीं लिए। युवक ने भाई ने सेंटर जाकर जांच कराई।
3. पिपराली रोड सूर्य नगर की महिला मार्च में जांच में कोरोना पॉजिटिव मिली। प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने महिला की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बावजूद संपर्क में आने वालों की जानकारी नहीं जुटाई। महिला के बच्चों तक के सैंपल नहीं हुए। हालांकि बच्चे में कोई लक्षण नहीं है। परिवार में महज पति ने खुद सेंटर पहुंचकर सैंपलिंग कराई है।
4. खाटू में मिठाई की दुकान चलाने वाले दो युवकों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दोनों खुद मार्केट से दवा खरीदकर कर लाए। पॉजिटिव युवक के साथ रहने वाले लोगों के आज तक सैंपल नहीं हुए। इसी तरह दूसरे युवक के परिजनों के तो सैंपल हुए, लेकिन साथ काम करने वालों की कोई कान्टेक्ट ट्रेसिंग नहीं हुई।

15 दिन में सिर्फ 2 बार हजार से ज्यादा सैंपल लिए
बिना लक्षण वाले मरीज चुनौती बन गए हैं। इसलिए स्वास्थ्य विभाग के शासन सचिव सिद्धार्थ महाजन ने स्पेशल प्लान बनाया है। प्रदेश में हर दिन 60 हजार सैंपल लिए जाने का टारगेट रखा है। सीकर जिले में जनसंख्या के मुताबिक 2333 संदिग्धों के सैंपल लिए जाने के निर्देश दिए हैं। लेकिन स्वास्थ्य विभाग इससे आधे सैंपल भी नहीं ले पा रहा है। पिछले 15 दिन की बात की जाए तो 27 मार्च को सबसे ज्यादा 1022 सैंपल लिए गए।
अप्रैल माह में 2 की मौत दोनों में नहीं थे लक्षण

  • लक्ष्मणगढ़ का मीलों की ढाणी तन मीरण निवासी युवक बिजली निगम में संविदा पर बिजली बिल जमा करने का काम करता था। युवक में कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे। रविवार सुबह अचानक तबीयत बिगड़ी। परिजन लक्ष्मणगढ़ हॉस्पिटल लेकर पहुंचे। वहां से सीकर रेफर कर दिया। एसके हॉस्पिटल में मौत हो गई। मौत के बाद जांच कराई तो पॉजिटिव मिला।
  • मोहल्ला रोशनगंज के 50 साल का व्यक्ति किडनी की बीमारी से पीड़ित था। 30 मार्च को परिजन डायलिसिस के लिए एसके हॉस्पिटल लेकर आए। डॉक्टरों ने एहतियातन सैंपल लेकर जांच कराई। जांच में व्यक्ति पॉजिटिव मिला। डॉक्टरों ने जयपुर रेफर कर दिया। आरयूएचएस में भर्ती कर इलाज शुरू किया। गुरुवार को मौत हो गई।

^स्वास्थ्य विभाग संक्रमण रोकने को लेकर सतर्क है। जिले में सैंपलिंग कम क्यों की जा रही है, सीएमएचओ से जानकारी ली जाएगी। क्लोज कान्टेक्ट ट्रेसिंग सिस्टम को मजबूत किया जाएगा। संक्रमण रोकने के लिए हर कदम उठाया जाएगा। डॉ. यदुराजसिंह, जोन डायरेक्टर स्वास्थ्य विभाग, जयपुर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें