पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जन संकल्प से हारेगा कोरोना:सांस नहीं आ रहा था, भूख और प्यास बंद हो गई, लेकिन हिम्मत नहीं हारी और जीत गए

सीकर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
डॉ श्रवण सैनी | कोरोना वॉरियर - Dainik Bhaskar
डॉ श्रवण सैनी | कोरोना वॉरियर
  • गंभीर कोरोना संक्रमण होने के बावजूद अनुशासन और इच्छाशक्ति से वायरस को हराने वालों की विजय गाथा

10 अप्रैल काे अचानक बुखार हुआ। दवा लेता रहा, लेकिन बुखार कम होने के बजाय बढ़ता गया। तीन दिन तेज बुखार रहने के बाद चौथे दिन अचानक सांस फूलने लगी। तब संदेह हुआ कि शायद मुझे कोरोना हो सकता है। ऐसे में आरटी-पीसीआर जांच कराई, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। रिपोर्ट आने के बाद परिवार से दूरी बना ली ताकि संक्रमित न हो जाएं।हालात बिगड़ने पर 14 अप्रैल को मुझे निजी कोविड हॉस्पिटल में भर्ती कराया।

अगले ही दिन चेस्ट एक्सरे और एचआर-सीटी जांच की गई। फेफड़ों में 50 फीसदी इंफेक्शन मिला। जब परिजनों को इस बात की जानकारी मिली तो पहले तो वे चिंतित हो गए लेकिन बाद में मेरा हौसला बढ़ाने में जुट गए। इस दाैरान मेरी भूख-प्यास बिलकुल बंद हाे गई थी। मैं दिनभर में जूस और बिस्किट भी बड़ी मुश्किल से खा पाता था। धीरे-धीरे इलाज ने असर दिखाना शुरू किया। भर्ती होने के 7 दिन बाद सांस में भी आराम मिलने लगा।

शरीर में भी हिम्मत आने लगी, तब भरोसा हुआ कि मैं ठीक हो जाऊंगा। अस्पताल के आईसीयू में मुझे 8 दिन तक 24 घंटे ऑक्सीजन चढ़ाई गई। अस्पताल के स्टाफ ने मेरा पूरा ख्याल रखा। 10 दिन बाद मुझे आईसीयू से जनरल वार्ड में शिफ्ट किया। इसके अगले दिन मुझे डिस्चार्ज कर दिया। डाक्टरों ने मुझे राेज दाल, खीरा, हरी सब्जियां खाने की सलाह दी है। इसके अलावा मैं दिन में दाे बार नेबुलाइजर भी ले रहा हूं। ठंडी चीजें खाने से मना किया गया है ताकि खांसी, जुकाम व बुखार नहीं हाे पाए।
(जैसा सुरेंद्र मावलिया को बताया)

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

    और पढ़ें