15 हजार लोग पानी को तरसे:तेज गर्मी में प्रदर्शन कर मांगा पानी, ग्रामीण बोले- अधिकारी फोन नहीं उठाते

सीकर5 महीने पहले
कलेक्ट्रेट पर मौजूद किसान। - Dainik Bhaskar
कलेक्ट्रेट पर मौजूद किसान।

तेज-चिलचिलाती धूप में भी लोग प्रदर्शन करने को मजबूर है। पानी की किल्लत के कारण परेशान हो रहे है। कई-कई दिन तक सप्लाई नहीं होने से दो बूंद के लिए भी तरस गए है। सीकर के कोछोर,रेटा और लक्ष्मीपुरा गांव के ग्रामीणों ने पानी की पर्याप्त सप्लाई की मांग को लेकर शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया।

ग्रामीणों का कहना है कि जलदाय विभाग की लापरवाही के चलते गर्मी के मौसम में गांव में पानी की सप्लाई नहीं हो पा रही है। अधिकारियों से बात करने की कोशिश करते हैं तो वह फोन भी नहीं उठाते हैं। ग्रामीणों ने पानी की सप्लाई को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन भी दिया है।

रेटा गांव के रहने वाले कैलाश कुमावत ने बताया कि गांव में पिछले 2 महीने से पानी की सप्लाई की समस्या बनी हुई है। नजदीकी गांव मांडोली में 6 ट्यूबवेल हैं जिनमें 5 चालू हालत में है। कोछोर, रेटा और लक्ष्मणपुरा में सप्लाई होती है। तीनों गांव में प्रतिदिन 10 लाख लीटर पानी की आवक है। कर्मचारियों के चलते तीनों गांवों की 15 हजार आबादी को समय पर पीने का पानी भी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। जब भी सप्लाई के लिए जेईएन और एईएन को फोन करते है तो वह फोन भी नहीं उठाते हैं। जिसके चलते आज हमने कलेक्टर अविचल चतुर्वेदी को ज्ञापन देकर मांग की है कि तीनों गांवों में समय पर पानी की सप्लाई की जाए।