• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Despite Getting The Training Done, The Duty Of Another Was Imposed On The Center, The Result The Invigilator Kept Circling Between The Two Examination Centers

रीट एग्जाम:ट्रेनिंग करवाने के बावजूद केंद्र पर दूसरे की ड्यूटी लगा दी, नतीजा- दाे परीक्षा केंद्रों के बीच चक्कर काटती रही वीक्षक

सीकर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ढाई घंटे तक सेंटर के बाहर बैठे रहे दिव्यांग शिक्षक संजीव कुल्हार । - Dainik Bhaskar
ढाई घंटे तक सेंटर के बाहर बैठे रहे दिव्यांग शिक्षक संजीव कुल्हार ।
  • ऑब्जर्वर ने शारीरिक शिक्षक को ट्रेनिंग करवाई, इसके बाद अन्य शिक्षक की ड्यूटी लगा दी

रीट एग्जाम में 25 सितंबर काे परीक्षा केंद्राें पर ट्रेनिंग देने के बाद भी अन्य वीक्षक की ड्यूटी लगा दी गई। जिस वीक्षक ज्याेति बगड़िया काे ट्रेनिंग देकर आईकार्ड जारी किया गया, उसे अन्य केंद्र पर ड्यूटी करने के लिए फाेन कर दिया। ऐसे में वह दाेनाें केंद्राें के बीच चक्कर काटती रही। दोपहर बाद तीन बजे डीईओ कार्यालय पहुंचकर लिखित में शिकायत दी। वहीं एक निजी काॅलेज में बने सेंटर पर रैंप नहीं होने से दिव्यांग वीक्षक भवन की सीढ़ियां नहीं चढ़ पाए व ट्रेनिंग में भाग नहीं ले सके। दाेपहर डेढ़ बजे तक व्हीलचेयर पर बाहर ही बैठे रहे।

इस पर काॅलेज प्रशासन ने उक्त दिव्यांग वीक्षक की जगह दूसरा वीक्षक मांगा। मामले में दिव्यांग वीक्षक ने डीईओ काे ज्ञापन दिया। राउमावि टाटनवा-धाेद में कार्यरत शारीरिक शिक्षक ज्याेति की रीट एग्जाम में कृष्णा सत्संग बालिका काॅलेज सीकर में ड्यूटी लगाई गई। 25 सितंबर काे इसी काॅलेज में उन्हें ट्रेनिंग देकर आईकार्ड भी जारी कर दिया गया और 26 काे सुबह आठ बजे आने काे कहा। 26 सितंबर काे सुबह 6.40 बजे फाेन आया कि आप महात्मा गांधी स्कूल बजाज राेड पर जाओ।

वहां सुबह आठ बजे पहुंचने पर केंद्राधीक्षक ने कहा कि जहां आपने प्रशिक्षण लिया है, वहीं ड्यूटी लगेगी। ज्याेति वापस सुबह 8.20 बजे कृष्णा सत्संग बालिका काॅलेज में पहुंची। वहां ऑब्जर्वर भंवरसिंह ने कहा कि आपकी ड्यूटी यहां नहीं है, आप चाहें जाे कर लाे, आप कहीं भी जा सकती हैं। भंवरसिंह राउमावि कंवरपुरा में प्रिंसिपल हैं। वीक्षक 11 बजे तक वहीं काॅलेज में बैठी रहीं। एसडीएम ने उन्हें डीईओ ऑफिस भेजा। डीईओ काे मामले से अवगत कराया व लिखित में शिकायत दी।

ढाई घंटे तक सेंटर के बाहर बैठे रहे दिव्यांग शिक्षक
राउमा विद्यालय तासर बड़ी के विशेष याेग्यजन ग्रेड सैकंड शिक्षक संजीव कुल्हार की एक िनजी काॅलेज में ड्यूटी लगाई गई। वे सुबह 11 बजे काॅलेज पहुंच गए। वहां रैंप नहीं हाेने से वे ऊंची सीढ़ियां नहीं चढ़ सके और ट्रेनिंग में हिस्सा नहीं ले सके। ट्रेनिंग के दाैरान 1.30 बजे तक काॅलेज के बाहर व्हीलचेयर पर बैठे रहने पर भी उन्हें ना ताे ट्रेनिंग में शामिल किया गया और ना ही अटेंडेंस दी। इस पर कुल्हार ने डीईओ कार्यालय पहुंच कर लिखित में दिया, तब उनकी ड्यूटी काटी गई।

जांच करवा रहे हैं : डीईओ
डीईओ माध्यमिक शिक्षा रामचंद पिलानिया का कहना है कि शिक्षक ज्याेति की लिखित शिकायत आई है। जांच करवा रहे हैं। जिम्मेदाराें पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं संजीव कुल्हार के डीईओ ऑफिस आने पर हमने तुरंत ड्यूटी काट दी थी।

खबरें और भी हैं...