• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Farmer Organizations Will Protest, Accusing The MP Of Making The Program Political And Building An Ashram By Occupying The Pasture Land

धार्मिक कार्यक्रम को राजनीतिक अखाड़ा बनाया:सांसद के समृद्धि यज्ञ का विरोध,किसान संगठनों का आरोप,साधु-संतों की जगह केवल नेताओं को बुलाया,काले झंडे दिखाकर करेंगे घेराव

सीकरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पिपराली वैदिक आश्रम। - Dainik Bhaskar
पिपराली वैदिक आश्रम।

सीकर लोकसभा क्षेत्र के सांसद सुमेधानंद सरस्वती के पिपराली वैदिक आश्रम में 17 अक्टूबर को होने वाले यज्ञ के पूर्णाहुति कार्यक्रम का किसान संगठनों ने विरोध करना शुरू कर दिया है। किसान संगठनों का आरोप है कि सांसद ने इस धार्मिक कार्यक्रम को राजनीतिक अखाड़ा बना दिया है। जिसमें राज्यपाल कलराज मिश्र,कई सांसद और भाजपा नेता को बुलाया गया है। साधु-संतों को निमंत्रण नहीं भेजा गया है। किसानों और ग्रामीणों ने गोठड़ा भूकरान में हुई आमसभा में अतिथियों को काले झंडे दिखाने और सांसद का घेराव करने का फैसला लिया है।

गोठड़ा भूकरान में आमसभा कर किसान संगठनों और पिपराली गांव के ग्रामीणों ने कहा कि सांसद का आश्रम चरागाह भूमि पर बना हुआ है। जिस पर अवैध रूप से कब्जा करते हुए निर्माण किया गया है। कार्यक्रम में शामिल होने आ रहे मेहमानों को किसान काले झंडे दिखाकर विरोध करेंगे। सांसद के वैदिक आश्रम में 3 महीने पहले शुरू हुआ वृष्टि एवं राष्ट्रीय समृद्धि यज्ञ का पूर्णाहुति कार्यक्रम 17 अक्टूबर को होगा। जिसमें राज्यपाल कलराज मिश्र,कई सांसद और भाजपा नेता मौजूद रहेंगे। अखिल भारतीय किसान यूनियन टिकैत के दिनेश जाखड़ ने सांसद के कार्यक्रम को राजनीति का हिस्सा बताया। उनका कहना है कि भाजपा नेताओं का जमावड़ा कल पार्टी विशेष का संदेश देना है। कार्यक्रम में साधु,संत या महात्मा को आमंत्रित नहीं किया गया है। जाखड़ ने यूपी में किसानों के साथ हुई घटना पर कहा कि दोषी को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर केंद्र सरकार से बात की है।