क्राइम:गैंगस्टर राजू ठेहट ने जेल में ही रची थी शक्तिसिंह की हत्या कराने की साजिश

सीकरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • नए खुलासे पर उद्योग नगर थाना पुलिस करेगी ठेहट को गिरफ्तार

आनंदपाल गैंग के शक्तिसिंह की हत्या की साजिश रचने में जयपुर जेल में बंद गैंगस्टर राजू ठेहठ का नाम पुलिस के सामने आया है। पुलिस उसे गिरफ्तार कर पूछताछ के लिए सीकर लाएगी। उद्योग नगर थानाधिकारी पवन चौबे ने बताया कि शक्तिसिंह के 28 जून को किसी शादी में आने की सूचना राजू ठेहठ को लगी थी। उसने विजय भार्गव, सोनू मीणा और उसकी गैंग से जुड़े लोगों से शक्तिसिंह को जान से मारने का प्लान बनाया, लेकिन शादी में शक्तिसिंह नहीं पहुंचा। इसके बाद उन्होंने परडोली में राजेंद्र सिंह पर फायरिंग कर की थी। पुलिस आरोपियों के पीछे थी। पुलिस ने उनके चार साथी संजू धायल, हर्षवर्धन सिंह, राजेंद्र और गुट्‌टू को दबोच लिया था, जबकि विजय भार्गव और सोनू मीणा सहित उनके दो साथी अलग-अलग दिशाओं में भाग गए।

आरोपियों ने बताया कि आनंदपाल गिरोह से जुड़े शक्ति को जान से मारने की साजिश जयपुर जेल में बंद राजू ठेहट ने रची थी। शुरुआती जांच में सामने आया है कि राजू ठेहट जेल में बैठे ही पूरे सिस्टम को ऑपरेट कर रहा था और बदला लेना चाह रहा था। क्योंकि कुछ महीनों पहले का राजू ठेहट के भाई ओमा पर हमला हुआ था। इससे पहले विजय भार्गव पर फायरिंग कर आनंदपाल गिरोह से जुड़े शक्ति ने उसे मारने का प्रयास किया था। इस वजह से दोनों ही गुट बदला लेने के लिए मौका तलाश रहे थे।
हथियार भी उपलब्ध करवाए
राजू ठेहट अभी जयपुर जेल में बंद है। उसे 20 दिन की पैरोल मिली है, लेकिन जयपुर जेल प्रशासन ने उसे जेल से बाहर नहीं जाने दिया है। जेल प्रशासन पता लगा रहा है कि पैरोल देने से पहले प्रदेश के किसी थाने में राजू ठेहट पर पुराना मुकदमा तो नहीं है। मंगलवार को जयपुर जेल प्रशासन इसी कार्रवाई में जुटा रहा कि राजू  जेल से बाहर नहीं निकल पाए क्योंकि पुलिस को आशंका है कि इसके बाहर आने के बाद गुर्गे मिलकर बड़ी वारदात कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...