नौकरी के नाम पर 3.80 लाख ठगे:दौसा में फायर सेफ्टी में नौकरी लगवाने का दिया झांसा, बार-बार रुपए मांगने पर हुआ शक

सीकर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नीमकाथाना सदर इलाके में नौकरी लगाने के नाम पर ठगे 3.80 लाख रुपए। - Dainik Bhaskar
नीमकाथाना सदर इलाके में नौकरी लगाने के नाम पर ठगे 3.80 लाख रुपए।

नीमकाथाना सदर इलाके में अच्छी तनख्वाह पर नौकरी दिलाने का झांसा देकर चार लाख रुपए ठगने का मामला सामने आया है। रुपए लेने के बाद भी नौकरी नही लगने पर ठगी का पता चला। शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जांच अधिकारी सुरेश कुमार ने बताया कि भगवानपुरा सदर निवासी कालूराम ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है। रिपोर्ट में बताया कि उसके यहां महावीर मीणा ड्राइवर है। साल 2019 में बातचीत के दौरान ड्राइवर महावीर मीणा ने बताया कि उसके चाचा रामोतार की दौसा के फायर सेफ्टी में अफसरों से अच्छी जान-पहचान है। फायर सेफ्टी में उसका चाचा अच्छी तनख्वाह पर नौकरी लगवा सकता है। झांसे में आने पर पीड़ित कालूराम ने अपने छोटे भाई तेजवीर और साले को नौकरी लगवाने को कहा।

उन्होंने आरोपी मुरारीलाल और उसकी पत्नी चंदा मीणा को फायर सेफ्टी में अफसर होना बताकर मिलवाया। आरोपियों ने दोनों को नौकरी लगवाने की एवज में 7 लाख रुपए लगना बताया। फायर का डिप्लोमा बनाने के लिए अलग-अलग बार में 3 लाख 80 हजार रुपए ले लिए। नौकरी लगवाने का तकाजा करने पर आरोपी ओर रुपयों की मांग करने लगे। ठगी का एहसास होने पर पीड़ित ने आरोपियों के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कराया।