दंगल गर्ल्स पहुंची सीकर:अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी गीता फोगाट व रितु फोगाट बोलीं-सफलता के लिए कड़ी मेहनत और अनुशासन जरूरी

सीकरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी गीता फोगाट एवं रितू फोगाट का स्वागत करते हुए। - Dainik Bhaskar
अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी गीता फोगाट एवं रितू फोगाट का स्वागत करते हुए।

दंगल गर्ल्स के नाम से प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी गीता फोगाट एवं रितु फोगाट ने विद्यार्थियों से कहा कि जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत व अनुशासन जरूरी है। सफलता पाने के लिए कभी शॉर्टकट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, बल्कि हौंसला बनाए रखकर कड़ी मेहनत करनी चाहिए।

वे बोलीं- उन्होंने कक्षा छह से पहलवानी शुरू की। सुबह 3:30 बजे उठकर दो-तीन घंटे अखाड़े में अभ्यास करना एवं उसके बाद चार किमी पैदल चलकर स्कूल जाना रूटीन होता था। अब समय के साथ बेटियां आगे बढ़ने लगी हैं, लेकिन अभी भी बड़ा फासला तय करना बाकी है। बेटियों को हौंसले के साथ कड़ी मेहनत करनी चाहिए। इस दौरान विद्यार्थियों ने अनेक सवाल भी पूछे, जिनका गीता ने जवाब दिया। गीता ने कहा कि शादी एवं पुत्र के जन्म के बाद खेल में वापसी के लिए उन्होंने 35 किग्रा वजन कम किया है।

ऐसे में असंभव कुछ भी नहीं है। यदि लक्ष्य निर्धारित कर उसके अनुरूप मेहनत की जाए तो सफलता जरूर मिलती है। मिक्स्ड मार्शल आर्ट के लिए सिंगापुर में ट्रेनिंग ले रही रितु फोगाट ने कहा कि सफलता के तीन ही मूल सूत्र हैं और वो हैं दूरदृष्टि, कड़ी मेहनत एवं पक्का इरादा। गीता फोगाट ने कॉमनवेल्थ गेम्स में तीन बार स्वर्ण पदक के साथ ही अनेक अंतरराष्ट्रीय पदक जीतकर देश का मान बढ़ाया है। वहीं रितु फोगाट ने भी कॉमनवेल्थ गेम्स 2016 में स्वर्ण पदक के साथ अन्य अंतरराष्ट्रीय खेलों में मेडल जीते हैं।

प्रिंस एकेडमी सीबीएसई स्कूल एवं प्रिंस कॉलेज में पहुंचने पर दोनों खिलाड़ियों का स्वागत किया गया। इस दाैरान संस्था चेयरमैन डाॅ. पीयूष सुंडा, मुख्य प्रबंध निदेशक राजेश ढिल्लन, प्रबंध निदेशक रमाकांत स्वामी एवं एडमिनिस्ट्रेटर ओंकार मूंड ने गीता एवं रितु फोगाट का स्वागत किया।

खबरें और भी हैं...