बैठक में पीसीसी चीफ- सांसद में नोंकझोंक:झुंझुनूं ​​​​​​​सांसद बोले- अधिकारियों से फीडबैक लेने पर आप बीच में ही टोक देते है

सीकर4 महीने पहले

सीकर कलेक्ट्रेट में आज जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक हुई। बैठक में विकास के कामों को लेकर खुलकर चर्चा की गई। अधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र में आ रही परेशानियों के साथ डवलपमेंट को लेकर बात रखी। बैठक में पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा,सांसद सुमेधानंद, सांसद नरेन्द्र कुमार और कलेक्टर मौजूद रहे।

विकास के कामों को लेकर जनप्रतिनिधि और अधिकारियों के बीच खुलकर चर्चा की गई। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा, सीकर सांसद सुमेधानंद और झुंझुनूं सांसद नरेन्द्र कुमार की मौजूदगी में अधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र में आ रही परेशानियों के साथ विकास कार्यों के बारे में बताया। मन नरेगा चिकित्सा खेल मैदान, बिजली, पानी के मुद्दों को लेकर चर्चा की। बैठक में बताया कि जिले में 504 खेल मैदान बने है। 269 तक खेल मैदानों का काम प्रगति पर चल रहा है। नरेगा में चल रहे कामों पर भी विचार-विमर्श किया गया। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंताओं को कहा कि वह ऑफिस में नहीं बैठकर फील्ड में जाकर विकास कामों की मॉनीटिरंग करें।

पीसीसी चीफ और सांसद में नोंकझोंक
झुंझुनूं सांसद नरेन्द्र कुमार नरेगा अधिकारियों से फीडबैक ले रहे थे। उस दौरान पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने बार-बार टोका। नाराज होकर सांसद ने गोविंद सिंह डोटासरा को अपनी बात रखने को कहा। सांसद ने कहा कि वह हर बात में अपनी राय देना बंद करें। हम भी अधिकारियों से फीडबैक लेना चाहते है लेकिन आप बीच में ही टोक देते हो। दोनों के बीच कुछ देर तक कहासुनी भी हुई। नोंकझोंक ज्यादा बढ़ने के बाद प्रशासन ने मीडियाकर्मियों को भी मीटिंग से बाहर जाने के लिए कह दिया।

कोरोना गाइडलाइन की उड़ी धज्जियां
समन्वय समिति की बैठक में अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिधिनियों ने भी कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं की। मीटिंग में आए अधिकारियों ने मास्क लगाया हुआ था तो वहीं सांसद सुमेधानंद, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा, कलेक्टर अविचल चतुर्वेदी बिना मास्क के नजर आए। ऐ

खबरें और भी हैं...