आरोपी के परिजन बाेले, नहीं कराएंगे जमानत:मुंहबोले चाचा ने किया ज्यादती का प्रयास, हार्ट पेशेंट कॉलेज छात्रा लात मारकर भागी

सीकर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बलारां स्टैंड की घटना, ट्रैक्टर चालक की मदद से एक घंटे में पुलिस ने पकड़ा

फर्स्ट ईयर में पढ़ने वाली छात्रा के साथ मुंहबाेले चाचा ने ज्यादती का प्रयास किया। आराेपी काॅलेज से लाैट रही छात्रा काे बहला-फुसला कर जंगल में ले गया और ज्यादती का प्रयास किया। छात्रा आराेपी काे लात मार कर सड़क पर अा गई। एक ट्रैक्टर चालक काे आपबीती बताई। ट्रैक्टर चालक ने धमकाया तो आरोपी खेतों से होते हुए अपने घर जाकर छिप गया। ट्रैक्टर चालक ने उसी दौरान वहां से गुजर रही पुलिस जीप को रुकवाया और घटना की जानकारी दी। पुलिस ने घंटे बाद आराेपी काे उसके घर से दबाेच लिया। बलारां थानाधिकारी बाबूलाल मीणा ने बताया कि आरोपी काे काेर्ट ने जेल भेज दिया।

तीन महीने पहले हार्ट का आपरेशन हुआ था, फिर भी हिम्मत कर खुद को बचा लिया : आराेपी ने घटना के एक दिन पहले रैकी की थी कि छात्रा रोज कितने बजे निकलती है और लक्ष्मणगढ़ जाने के लिए बलारां स्टैंड से बस में बैठती है। करीब तीन महीने पहले दिल का आपरेशन हाेने के कारण छात्रा कमजाेर हाे गई थी। फिर भी उसने हिम्मत नहीं हारी और आराेपी के साथ संघर्ष कर सड़क पर आ गई थी। आरोपी ने बताया कि ज्यादती के बाद पहचान छिपाने के लिए वह उसे जान से मार भी सकता था।

आरोपी के परिजन बाेले, नहीं कराएंगे जमानत

आठवीं पास आराेपी डेढ़ साल पहले रुपए देकर असम से शादी करके पत्नी को लाया था। आरोपी शराब पीकर पत्नी से मारपीट करता था। इससे परेशान होकर ही वह इसे तीन महीने में ही छोड़कर वापस अपने पीहर चली गई थी। घटना के बाद पुलिस ने जब अाराेपी काे पकड़ा, तो उसके परिजनाें ने कहा कि घटना शर्मनाक है, उसकी जमानत नहीं करवाएंगे।

खबरें और भी हैं...