पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • New Twist In The Charge Of Excesses On The Head Constable, The Police Said – Prima Facie The Allegation Is Not Substantiated

आयोग ने मांगी रिपोर्ट:हैड कांस्टेबल पर ज्यादती के आरोप मामले में नया मोड़, पुलिस ने कहा-प्रथम दृष्टया आरोप प्रमाणित नहीं

सीकर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो

सिंगरावट चाैकी इंचार्ज सुभाष कुमार पर छेड़छाड़ और ज्यादती के आराेप लगाने के मामले में नया मोड़ आया है। पुलिस ने कहा है कि प्रथम दृष्टया आरोप प्रमाणित नहीं हुए हैं, लेकिन मामले की जांच जारी रहेगी। पुलिस के विश्वस्त सूत्रों के अनुसार युवती साेमवार काे काेर्ट में अपने बयानाें से मुकर गई।

बताया जा रहा है कि घर से लापता हाेने के बाद युवती रायसिंहनगर में जिस युवक के साथ दस्तयाब की गई थी, वह उससे शादी कर चुकी है। पुलिस ने जब पति को जेल में डालने की धमकी दी ताे युवती काे लगा कि पुलिस उसे पति से अलग कर परिजनाें के पास भेज देगी। इससे बचाव के लिए उसके पति ने ही चाैकी इंचार्ज काे फंसाने का दबाव बनाया था। सीओ ग्रामीण राजेश आर्य ने बताया कि सिंगरावट चाैकी इंचार्ज सुभाष पर दस्तयाब कर लाई युवती द्वारा छेड़छाड़ और ज्यादती का मुकदमा दर्ज हाेने के बाद मामले की जांच शुरू की गई। सोमवार को युवती काे काेर्ट में पेश कर 164 के बयान करवाए गए। पुलिस ने मामले में रायसिंहनगर थाने की महिला कांस्टेबल सुविध्या के बयान भी लिए हैं जो सीकर जिले में धोद की रहने वाली है। महिला कांस्टेबल छुट्‌टी मिलने के कारण चाैकी इंचार्ज सुभाष कुमार के साथ ही श्रीगंगानगर जिले के रायसिंहनगर थाने से कार में धाेद के लिए रवाना हुई थी। दस्तयाब किए गए युवक-युवती भी उसी कार में सवार थे।

यह था मामला : धाेद इलाके से युवती लापता हो गई। परिजनों ने धोद थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। जांच सिंगरावट चाैकी इंचार्ज सुभाष कुमार काे साैंपी थी। चाैकी इंचार्ज 29 अगस्त काे युवती व युवक काे रायसिंहनगर से दस्तयाब कर सिंगरावट ले आए। चार दिन बाद युवती व उसके पति ने एसपी के नाम परिवाद साैंप कर चाैकी इंचार्ज पर युवती से छेड़छाड़ व चाैकी पर ज्यादती करने के आराेप लगाए थे। चाैकी इंचार्ज काे लाइन हाजिर कर दिया था।

चौकी इंचार्ज के खिलाफ छेड़छाड़ व ज्यादती के मुकदमे में युवती द्वारा लगाए आरोप प्रथम दृष्टया प्रमाणित नहीं हुए हैं। मामले में जांच की जा रही है। - कुंवर राष्ट्रदीप, एसपी

चौकी के पास रहने वाली महिला के बयान भी लिए

मामले के जांच अधिकारी लाेसल थानाधिकारी सज्जन कुमार ने बताया कि युवती द्वारा आराेपाें का खंडन करने के बावजूद पुलिस ने सिंगरावट चाैकी के पड़ाेस में रहने वाली महिला व उसकी बेटी के बयान भी लिए हैं। दस्तयाब कर सिंगरावट लाने के बाद चौकी पर महिला कांस्टेबल नहीं होने के कारण चाैकी इंचार्ज सुभाष ने युवती काे पड़ोस में रहने वाली महिला के घर भेज दिया था। पुलिस मामले की पूरी जांच पड़ताल करने में जुटी हुई है।

मानवाधिकार आयाेग ने एसपी से तलब की रिपोर्ट

सिंगरावट चाैकी प्रभारी हैड कांस्टेबल सुभाष द्वारा युवती से छेड़छाड़ व ज्यादती के आराेप के मामले में राज्य मानवाधिकार आयाेग ने प्रसंज्ञान लेते हुए एसपी से 15 सितंबर से पहले रिपोर्ट तलब की है। आयोग अध्यक्ष न्यायाधीश गोपाल कृष्ण व्यास ने लिखा कि ऐसे मामलों से पुलिस की छवि पर सवाल उठते हैं। पीड़ित की रिपोर्ट किन धाराओं में दर्ज की गई, चौकी में कितने पुलिसकर्मी तैनात हैं। इनमें महिला पुलिसकर्मी कितनी है। किन लोगों ने राजीनामा के लिए पंचायत की। रिपोर्ट में एसपी यह जानकारी भी दें, कि घटना की सूचना कब और किसके जरिए मिली।

खबरें और भी हैं...