पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मिड-डे मील:प्रदेश के सीनियर सैकंडरी स्कूलाें में पौध नर्सरी तैयार की जाएगी

सीकर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूर्व में एमडीएम याेजना में मिड-डे मील के लिए किचन गार्डन तैयार कराए थे

प्रदेश के सीनियर सैकंडरी स्कूलों में नर्सरी तैयार की जाएगी। मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने इस संबंध में सभी जिला कलेक्टर को निर्देश जारी किए हैं। निर्देश में कहा कि नर्सरी के साथ ही सभी विद्यालयों की खाली जमीन, खेल मैदान व संस्था के आसपास की खाली पड़ी जमीन में पौधरोपण करवाएं। जिले में 600 से ज्यादा माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूल हैं। अभी सरकारी स्कूलाें काे वन विभाग की नर्सरियाें से निशुल्क व न्यूनतम दराें पर पाैधे मिल रहे हैं। मामले में माध्यमिक शिक्षा मुख्यालय के डीईओ लालचंद नहलिया का कहना है कि आदेश मिलते ही सीनियर सैकंडरी स्कूलाें में पाैध नर्सरी तैयार करने का कार्य शुरू करवा देंगे।

अब तक संस्था प्रधान वन विभाग की नर्सरियाें से पाैधे लाते हैं। हालांकि इस सीजन में पौधे लगाए जाएंगे ताे अगले सीजन में ही नर्सरी तैयार हो पाएगी। क्योंकि सीनियर सैकंडरी स्कूलाें में चतुर्थ श्रेणी कार्मिक काफी कम हैं। हालांकि नर्सरी तैयार करने के लिए भामाशाहाें व ग्रामीणाें का सहयोग भी लिया जा सकता है। इसके अलावा मुख्य सचिव ने नरेगा के तहत तालाबों के किनारे, मोक्षधाम, कब्रिस्तान, आंगनबाड़ी केन्द्रों, विद्यालयों, तहसील भवनों आदि में सघन पौधरोपण करवाने के निर्देश भी दिए हैं।

लॉकडाउन के कारण खराब है किचन गार्डन की हालत
राजस्थान सरकार की ओर से पहले स्कूलाें में मिड डे मील याेजना में भाेजन तैयार करने के लिए सब्जी के लिए स्कूलाें में ही किचन गार्डन तैयार करने के निर्देश दिए गए थे। जिलेभर में सैकड़ाें स्कूलाें में किचन गार्डन तैयार किए गए थे। लेकिन एक साल से ज्यादा समय से स्कूल बंद होने के कारण किचन गार्डन की देखभाल नहीं हो पा रही। कई किचन गार्डन उजड़ चुके हैं।

खबरें और भी हैं...