पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Seeing The Elder Brother Drowning, He Jumped To Save Chheta, Both Of Them Started Drowning, Then The Old Man Saved One From The Dhoti

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दुखद हादसा:बड़े भाई को डूबता देख छाेटा बचाने कूदा, दोनों डूबने लगे तो वृद्ध ने धोती से एक को बचाया

सीकर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गणेश्वर के गालव कुंड में हादसा, परिवार खाटूश्यामजी में दर्शन कर लौट रहा था

गणेश्वर के गालव कुंड में नहाने उतरे एक व्यक्ति की डूबने से मौत हो गई। मृतक कोटपूतली के बकराणा निवासी ओमप्रकाश शर्मा (60) है। वह परिवार के साथ खाटूश्यामजी दर्शन के बाद गणेश्वर धाम पर नहाने आया था। गालव कुंड में नहाने उतरा तो डूबने लगा। बड़े भाई ओमप्रकाश को डूबता देख छोटा भाई जगदीश बचाने कूंड में कूद गया। दोनों ने एक-दूसरे के हाथ पकड़ लिए। जगदीश को भी तैरना नहीं आता है।

कुंड गहरा होने से दोनों डूबने लगे। कुंड पर मौजूद वृद्ध ने दोनों को डूबता देख अपनी धोती फेंकी। उसे पकड़कर जगदीश बाहर निकल आया, लेकिन ओमप्रकाश डूब गया। शाेर-शराबा होने पर तैराक युवकों ने कुंड से ओमप्रकाश को बाहर निकाला। मृतक ओमप्रकाश की पत्नी शर्मिला भी कुंड पर मौजूद थी। पति को डूबता देख वह दहाड़े मारकर रोने लगी।

पीएमओ ऑफिस में तैनात आईटीबीपी जवान हंसराज को पिता के डूबने की खबर मिली तो वह कुंड की तरफ दौड़ा। वह परिवार को कुंड पर छोड़कर गाड़ी में सामान लेने आ गया था। इसी दौरान हादसा हो गया। ओमप्रकाश को परिवार के लोग नीमकाथाना के अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। उसके बाद परिवार के लोग बिना पोस्टमार्टम शव ले गए। हादसे के बाद कुंड पर लोगों की भीड़ लग गई।
हादसों के बाद भी कम नहीं हो रही कुंड की गहराई
गणेश्वर के गालव कुंड पर हर साल हादसों में लोगों की मौत हो जाती है। हादसों को रोकने के लिए लोगों ने कुंड की गहराई कम करने की मांग की, लेकिन पंचायत व तीर्थ धाम समिति गहराई कम नहीं करवा रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें