सास-बहू की अंगुलियां काटी, 15 मिनट में घर लूटा:धारदार हथियार से हत्या के बाद गहने और नकदी लूटकर बदमाश हुए फरार

सीकरएक महीने पहले

लुटेरों ने लूटपाट को अंजाम देने के लिए सास-बहू की अंगुलियां काट दीं। यह घटना सीकर के श्रीमाधोपुर में मंगलवार शाम की है। एक व्यापारी के घर में हथियारबंद बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया। घर में मौजूद सास-बहू से सामना होने पर बदमाशों ने धारदार हथियार से वार कर दोनों की हत्या कर दी। चेहरे पर कई वार करने के साथ ही दो अंगुलियों को भी काटकर अलग कर दिया। महज 15 मिनट में बदमाश अलमारी में रखे लाखों रुपए के गहने और नकदी लूटकर फरार हो गए।

फिलहाल, पुलिस ने एफएसएल और डॉग स्क्वॉयड टीम की मदद से मौके से साक्ष्य जुटाए। पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से शवों का पोस्टमार्टम करवाया है। पुलिस घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेजों को खंगालने के साथ बदमाशों की तलाश कर रही है।

नीमकाथाना एडि. एसपी रतन लाल भार्गव ने बताया कि कोटडी गांव में रहने वाली सास रामेश्वर देवी (70) और बहू संतोष (45) की हत्या की गई है। मंगलवार शाम सास-बहू घर में थी। रोज की तरह सुरक्षा के लिए उन्होंने मकान के मेन गेट पर ताला लगा रखा था। शाम करीब साढ़े छह बजे हथियारबंद बदमाश दीवार कूदकर अंदर घुसे। सास-बहू पर धारदार हथियार से वार कर घायल कर दिया। लहूलुहान हालत में जमीन पर गिरने के बाद बदमाश अलमारी में रखे सोने-चांदी के गहने और नकदी लूटकर ले गए।

पति लौटा तो चला पता
हार्डवेयर व्यापारी पति पूरणमल कुमावत शाम करीब पौने सात बजे घर लौटा। रोज की तरह घर के मेन गेट पर ताला लगा था। गेट खुलवाने के लिए कहने पर भी अंदर से कोई जबाव नहीं मिला। दीवार कूदकर अंदर जाकर देखा तो पत्नी और बहू लहूलुहान हालत में फर्श पर पड़े मिले। कमरे में खून ही खून फैला था औार सामान बिखरा हुआ था। अलमारी में रखे गहने और नकदी भी गायब थे। व्यापारी की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। सास-बहू की सास चलते देखकर तुरंत हॉस्पिटल भिजवाया गया। जहां रास्ते में रामेश्वर देवी ने दम तोड़ दिया। वहीं, इलाज के दौरान हॉस्पिटल में संतोष की मौत हो गई।

धारदार हथियार से वार, अंगुली भी काटी
पीड़ित व्यापारी पूरणमल का कहना है कि साढ़े छह बजे उसने पत्नी से बात हुई थी, तब तक सब ठीक था। बहू संतोष देवी का पति राजेश महाराष्ट्र में टाइल्स का व्यापार करता है। छोटा बेटा विकेश सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। 1 दिसम्बर को शादी के बाद वह सूरत चला गया था। बदमाशों ने रेकी कर वारदात को अंजाम दिया है। गहने-नकदी लूटने के लिए घुसे बदमाशों ने दोनों को धारदार हथियार से मारा। पत्नी रामेश्वर के सिर के पीछे की तरह वार किया और उसकी दो अंगुली भी हाथ से काटकर अलग कर दी।