क्राइम / गैंग बनाने के लिए शूटर संजू ने अलवर व हरियाणा से खरीदे थे हथियार, फायरिंग के बाद भी इलाके में घूमते रहे आरोपी

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

सीकर. परडोली में तंबाकू खरीदने गए राजेंद्र सिंह पर रुपयों के लेन-देन के मामले को लेकर की गई फायरिंग के आरोपी घटना के 24 घंटे बाद भी इलाके में खुले घूम रहे थे, लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी। पकड़ में आए आरोपियों के पास बरामद हुए हथियारों के आधार पर पुलिस संभावना जता रही है कि शूटर संजू ने नई गैंग बनाने के लिए अलवर और हरियाणा से हथियार खरीदें होंगे। क्योंकि ऐसे हथियार अलवर और हरियाणा में ही तैयार किए जाते हैं।
सदर थाना अधिकारी पुष्पेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपियों से बरामद पिस्टल और देसी कट्टा अलवर तथा हरियाणा में डिमांड के अनुसार तैयार किए जाते हैं। इधर मामले की जांच कर रही उद्योग नगर थाना पुलिस का कहना है कि मौके से फरार हुए चारों आरोपियों की गिरफ्तार करने के लिए उनके संदिग्ध ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। एक स्पेशल टीम जिले से बाहर भेजी गई है, ताकि लोकेशन के आधार पर  चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया जा सके। गौरतलब है कि परडोली के राजेंद्र सिंह ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि जब वह दुकान पर पुड़िया लाने गया था। उसी दौरान संजू धायल और उसके साथी गुट्टू ने उस पर फायरिंग कर जान से मारने का प्रयास किया था। पीड़ित का आरोप था कि ने उसने दो साल पहले गुट्टू के चाचा हरिसिंह को 10 लाख रुपए दिए थे। मांगने पर उसने मना कर दिया था। इसके बाद परिवार के लोगों ने मिलकर साजिश रची और उस पर फायरिंग कर पैसा नहीं मांगने का दबाव बनाया था। एडिशनल एसपी डॉ. देवेंद्र शर्मा ने बताया कि पुलिस पर फायरिंग कर फरार हुए चारों आरोपियों के बारे में अहम सुराग लगे हैं। जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 
अारोपियों ने हथियार दिखाकर डराया, ताकि पुलिस पीछा नहीं करें
घटना के अनुसार 27 जून को राजेंद्र सिंह पर फायरिंग के बाद नामजद आरोपी संजू और उसका साथी गुट्टू फरार हो गए थे। पुलिस को सूचना मिली कि संजू और उसकी गैंग सांवलोदा से भढ़ाढर की तरफ जा रहे हैं। पुलिस ने पीछा कर बालमणी जोहड़ी के पास घेर लिया। उन्होंने हथियार दिखाकर पुलिस को पीछा नहीं करने के लिए चेताया। बावजूद पुलिस पीछे लगी रही। आरोपियों ने पुलिस पर 5 राउंड फायर किए। जवाब में पुलिस ने भी गोलियां बरसाई। इसके बाद आरोपी गाड़ी छोड़कर खेतों में भागने लगे। पुलिस ने संजू धायल, संजेश उर्फ गुट्टू और उसके दो साथी हर्षवर्धन तथा पिलानी निवासी राजेंदर  को मौके पर ही दबोच लिया। जबकि उनके 4 साथी फरार हो गए थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना