• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Showed The Dream Of A Job In The Navy, Lakhs Of Rupees For Both The Youth, Sent In The Name Of Training But Reached The Police Station,

धोखाधड़ी का शिकार युवक ही जेल में बंद:नेवी में नौकरी दिलाने के बाद लाखों रुपए ऐंठे, फर्जी कागज बनाकर ट्रेनिंग पर भेजा,पकड़े गए

सीकर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ठगी का शिकार कमलेश और संतोंष गुजरात जेल में बंद है। - Dainik Bhaskar
ठगी का शिकार कमलेश और संतोंष गुजरात जेल में बंद है।

नेवी में नौकरी दिलाने के नाम 3 लड़कों से लाखों रुपए धोखाधड़ी हो गई। फर्जी कागज बनाकर ट्रेनिंग में भेजा गया, जिसके बाद तीनों युवकों को गुजरात पुलिस ने पकड़ लिया। डिफेंस एकेडमी संचालक से परिवार के लोगों ने पूछा तो धमकी देने लगे।

नौकरी के नाम पर लाखों रुपए ऐंठे
सीकर के कोतवाली थानाधिकारी विजेन्द्र ने बताया कि बोदूराम और शिवपाल ने सोमवार शाम को डिफेंस एकेडमी के संचालक ओमप्रकाश ढाका के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया है। बोदूराम ने बताया कि पुलिस लाइन के सामने एसएससी क्लासेज एंड डिफेंस एकेडमी है। एकेडमी के संचालक ओमप्रकाश ढाका ने नेवी में नौकरी दिलाने के नाम पर बोदूराम के भतीजे संतोष कुमार से 6 लाख 50 हजार रुपए और शिवपाल के भतीजे कमलेश व सुरेश से 14 लाख रुपए की डिमांड की। बादूराम से डेढ़ लाख रुपए और शिवपाल से 3 लाख एडवांस ले लिए।

परिवार को फोन करने से मना किया
ट्रेनिंग के नाम पर दोनों से साढ़े पांच लाख रुपए लिए थे। फर्जी कागज बनाकर युवकों को गुजरात के जामनगर में ट्रेनिंग शुरु होने का कहकर बुलाया। कमलेश और संतोष दोनों जामनगर चले गए। ट्रेनिंग के दौरान परिवार को फोन नहीं करने को कहा। कुछ समय बाद पता चला कि युवकों को गुजरात पुलिस ने फर्जी कागज से नौकरी पाने के मामले में गिरफ्तार कर लिया। डिफेंस एकेडमी वालों ने भी पल्ला झाड़ लिया।