पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

स्कूलों में हुई प्रतियोगिताएं, विजेताओं काे सम्मानित किया:विभिन्न संगठनों व विद्यालयों में आयोजित कार्यक्रमों में वक्ताओं ने हिंदी भाषा के बारे में जानकारी दी

सीकर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सोभासरिया कॉलेज में हिंदी दिवस मनाते हुए। - Dainik Bhaskar
सोभासरिया कॉलेज में हिंदी दिवस मनाते हुए।

विश्व हिंदी दिवस पर मंगलवार को जिलेभर में शिक्षण संस्थान एवं विभिन्न सामाजिक संगठनों की ओर से कार्यक्रम हुए। सीकर में एमके मेमोरियल शिक्षण संस्थान में एसके संस्कृत विद्यालय के प्राचार्य डॉ. किशन लाल उपाध्याय की मौजूदगी में हिंदी दिवस मनाया गया। उपाध्याय ने कहा, छात्रों को शुद्ध हिंदी भाषा सीखने के लिए व्याकरण और शब्दकोश का ज्ञान प्राप्त करना चाहिए। राजस्थान बैंक के पूर्व प्रबंधक एसएस सैनी, पवन गौड़, गायक अतुल भारद्वाज ने विचार व्यक्त किए। निदेशक इंजीनियर मनीष ढाका, भाजपा नेता मदन जांगिड़, गौरव दाधीच, मुकेश कुमावत व राजेन्द्र मधुकर ने विचार व्यक्त किया।

सोभासरिया ग्रुप में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में सोभासरिया महाविद्यालय के सेमिनार हॉल में कार्यक्रम हुआ। ट्रस्ट प्रतिनिधि मनोज जोशी, ग्रुप प्राचार्य डॉ. एसके राठी, ग्रुप रजिस्ट्रार प्रदीप शर्मा, सोभासरिया कॉलेज प्राचार्य डॉ. विकास टेलर आदि अतिथि रहे। वाद-विवाद, पोस्टर व निबंध प्रतियोगिता हुई। इस मौके पर सोभासरिया हिन्दी ई-महोत्सव की शुरुआत की गई।

इसमें देशभर के प्रतिभागियों से उनकी रचनाएं events@secs.ac.in पर 29 सितंबर, 2021 तक भेज सकते हैं। इधर, पोलोग्राउंड स्थित विद्याश्रम पब्लिक स्कूल में निबंध प्रतियोगिता हुई। निदेशक मंजू लाटा ने बताया प्रतियोगिता में 200 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। प्रथम स्थान पर कक्षा नौ की छात्रा अंशु साईं, द्वितीय कक्षा 10 की छात्रा प्रिया माथुर तथा तृतीय कक्षा नौ की छात्रा पायल जांगिड़ रही। विजेता छात्राओं को सम्मानित किया गया। प्रधानाचार्य मधुसूदन शर्मा ने हिंदी का महत्व बताया। कार्यक्रम में हेमा प्रधान, नेहा व्यास, चदा शर्मा आदि मौजूद रहे। संचालन वीरेन्द्र माथुर ने किया।

इधर, राजकीय विज्ञान महाविद्यालय सीकर में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में विचार गोष्ठी हुई। प्राचार्य डॉ. एनके बावलिया ने उच्च शिक्षा के लिए उच्च कोटि के हिंदी ग्रंथों के लेखन पर बल दिया। कार्यक्रम के संयोजक रामदेव सिंह भामू ने हिंदी के वर्तमान स्वरूप पर चर्चा की। वक्ताओं ने हिंदी के विकास में लेखकों, संगीतकारों, चलचित्रों के योगदान के बारे में बताया। बड़ौदा ग्रामीण क्षेत्रीय बैंक की ओर से भी हिंदी दिवस कार्यक्रम हुआ। शिक्षाविद मनोज मिश्रा व क्षेत्रीय प्रबंधक सुभाष गर्ग सहित अनेक बैंक अधिकारी शामिल हुए।

एनएसयूआई की ओर से राजकीय माध्यमिक विद्यालय मुकंदपुरा में हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में निबंध प्रतियोगिता हुई। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश नागा के नेतृत्व में हुई प्रतियाेगिता का शीर्षक स्वतंत्रता संग्राम में कांग्रेस की भूमिका था। प्रतियोगिता में ग्राम पंचायत पेवा सरपंच चुन्नीलाल ज्यानी ने संबोधित किया। सभी स्टूडेंट्स ने हिंदी भाषा के प्रचार प्रसार का संकल्प लिया और अभी छात्र-छात्राओं को पुरस्कार वितरण किया गया। केन्द्रीय विद्यालय सीकर में हिंदी पखवाड़ा के अंतर्गत हिंदी दिवस मनाया गया। विद्यालय प्राचार्य की अध्यक्षता व संस्कृत शिक्षक अमित कुमार जांगिड़ के संचालन में विद्यालय में विद्यार्थियों के लिए हिंदी काव्य पाठ प्रतियोगिता हुई। विद्यालय के शिक्षक पवन खांडल ने हास्य रस की कविता प्रस्तुत की। विद्यार्थी प्रतिभागियों में ऋतु, गार्गी माथुर और सविता ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त किया।

कार्यक्रम के अंत में विद्यालय में राजभाषा प्रभारी राकेश यादव में हिंदी भाषा के समग्र विकास और उन्नयन के लिए केंद्रीय विद्यालय संगठन के आयुक्त की अपील पढ़कर सुनाई। इस दाैरान विद्यालय प्राचार्य कैलाशचंद मीना, शिक्षक संदीप कुमार, ओमप्रकाश खटीक, विजयप्रकाश बड़सरा आदि उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...