• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Strike At Labor Department Office, Said; State Government Is Not Giving Assistance On Time, Alleging Corruption On Labor Officer

मजदूरों ने विभिन्न मांगों को लेकर निकाली रैली:श्रम विभाग ऑफिस पर दिया धरना, बोले; राज्य सरकार समय पर नहीं दे रही सहायता राशि

सीकर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
श्रम विभाग के बाहर धरने पर बैठे मजदूर। - Dainik Bhaskar
श्रम विभाग के बाहर धरने पर बैठे मजदूर।

सीकर में मजदूरों ने विभिन्न मांगों को लेकर रैली निकाली। श्रम विभाग ऑफिस जाकर धरना दिया। श्रमिकों का कहना है कि सरकार और जिला श्रम अधिकारी की लचीली कार्यशैली से सहायता राशि समय पर नहीं मिल पा रही है।

सीकर जिला भवन निर्माणी मजदूर यूनियन के जिला सचिव बृज सुंदर जांगिड़ ने बताया कि राज्य सरकार के श्रम विभाग की ओर से पहले मजदूरों की बेटियों को शुभ शक्ति योजना में 55 हजार रुपए मिलते थे। योजना में सरकार ने 4 फरवरी 2017 के बाद आज तक एक भी पैसा जारी नहीं किया है। योजना में जिले के करीब 11500 मजदूर ऐसे हैं जिनका भौतिक सत्यापन श्रम विभाग से हो चुका है। आवदेन भी मंजूर हो चुका है। इसके बाद भी आज तक रुपए नहीं मिले है। मजदूरों ने कहा कि बच्चों को पढ़ाई के लिए छात्रवृति का पैसा जुलाई में ही दिया जाना चाहिए।

सरकार ने नहीं चुकाया ऋण
जांगिड़ ने बताया कि राजस्थान सरकार ने 238 करोड़ रुपए का ऋण मजदूर कल्याण बोर्ड से लिया और सहायता बांटी। सरकार ने वह पैसा वापस नहीं चुकाया। ऐसे में अब मजदूरों को वह सहायता राशि भी समय पर नहीं मिल पा रही है।

श्रम अधिकारी पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप
सरकार मजदूरों को मृत्यु सहायता राशि में 1 लाख रुपए देती है। सीकर के श्रम विभाग अधिकारी राकेश कुमार भ्रष्टाचार करते हुए अपनी मनमर्जी से वह पैसा देते हैं। कई प्रकरण ऐसे भी हैं जिनमें कुछ को तो 21 दिन में ही पैसा मिला है और कुछ आवेदन के तीन साल बाद भी राशि का इंतजार कर रहे हैं।