एजुकेशन / सरकारी स्कूलों में स्टूडेंट्स को 10 जुलाई के बाद देंगे किताबें, सोशल डिस्टेंस की करनी होगी पालना

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

सीकर. सरकारी स्कूलों में पहली से 12वीं कक्षा तक के स्टूडेंट्स को 10 जुलाई के बाद किताबें वितरित की जाएगी। फिलहाल जिलास्तर से ब्लॉक तक किताबें पहुंचाई जा रही हंै। सीडीईओ सुरेंद्रसिंह गौड़ ने बताया कि कक्षा एक से 12वीं तक के छात्र-छात्राओं से पुरानी किताबें लेकर नए छात्रों को दी जाएगी। जिन विषयों की पुस्तकों में बदलाव हुआ है। वे सभी किताबें नई दी जाएगी। सात जुलाई तक जिले के सभी नौ ब्लॉकों में किताबें पहुंचा दी जाएगी। इसके बाद प्रधानाध्यापक व प्रिंसिपल किताबें वितरित करेंगे। पुस्तक वितरित में सोशल डिस्टेंस का पूरा ध्यान रखना होगा। साबुन से हाथ धुलाने व सेनेटाइजर की व्यवस्था रखनी होगी।  
इन कक्षाओं की पुस्तकें अभी तक नहीं आई हैं  
कक्षा एक से पांच तक की पुस्तकें अभी जिला स्तर पर नहीं आई हैं। वहीं कक्षा छह से नौ तक की तीन-तीन किताबें अभी नहीं आई हैं। 10वीं बोर्ड की सभी पुस्तकें नोडल स्तर तक पहुंच चुकी हैं। वहीं 11वीं व 12वीं कक्षाओं की चार-चार पुस्तकें अभी तक राजस्थान पाठ्य पुस्तक मंडल की ओर से नहीं भेजी गई हैं। ये पुस्तकें पांच से सात जुलाई तक जिलास्तर से बांटी जाएंगी। 50 प्रतिशत पुरानी व 50 प्रतिशत नई पुस्तकें दी जाएंगी। 
ब्लॉक पर खुले महात्मा गांधी स्कूल की पुस्तकें पहुंची : सीडीईओ गौड़ ने बताया कि महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम स्कूल की जिला मुख्यालय पर स्थित स्कूल की पुस्तकें पहुंच चुकी हैं। जल्द ही ब्लॉक स्तर की पर खोली गईं महात्मा गांधी स्कूलों की पुस्तकें भी पाठ्य पुस्तक मंडल की ओर से भिजवा दी जाएंगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना