सर्वर डाउन:करदाताओं को 31 दिसंबर तक आईटीआर भरने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा

सीकरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

करदाताओं को आईटीआर भरने के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसकी प्रमुख वजह सर्वर का सही नहीं चलना। इनकम टैक्स के पुराने ई-फाइलिंग पोर्टल को बदल कर आठ जून, 2021 को नया पोर्टल लाॅन्च किया गया था, परंतु अभी तक ई फाइलिंग पोर्टल पर रिटर्न भरना आसान नहीं है। पोर्टल पर कभी प्राेसेस स्लाे चलता है ताे कभी ओटीपी नहीं आता। इससे सीए, व्यापारी व नौकरीपेशा परेशान हैं। करदाताओं को चिंता है कि समय पर रिटर्न नहीं भरा तो पेनल्टी लगेगी। एक नवंबर, 2021 से आयकरदाता के लॉगइन पेज पर टैक्सपेयर इनफॉर्मेशन समरी और एनुअल इंफॉर्मेशन स्टेटमेंट को प्रदर्शित कर दिया है। पेन नंबर पर 50 तरह के फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन अपलोड कर दिए हैं। पहले सिर्फ 26 एएस के माध्यम से सूचनाएं उपलब्ध कराई जाती थी, पर अब इतनी सारी दिखाई जा रही है, जिसमें से कुछ तो करदाता से संबंधित नहीं है।

रिटर्न भरते समय इन बाताें का रखें ध्यान
रिटर्न भरने के लिए सही आय की गणना करना जरूरी है, अन्यथा स्क्रूटनी का नोटिस मिलेगा। कुछ त्रुटि हुई तो टैक्स, ब्याज, पेनल्टी भरनी पड़ेगी। करदाता ई-फाइलिंग पोर्टल पर एआईएस, टीआईएस और 26-एएस चैक कर सही आय गणना करें। बैंक के सभी अकाउंट में किए लेन-देन को जांच कर इनकम का आकलन करें। स्थाई संपत्ति खरीद या बिक्री का रिटर्न जरूर दिखाएं।

नौकरी पेशा व्यक्ति वेतन के अलावा घर किराए, ब्याज व अन्य आय शामिल करें। शेयर मार्केट, म्यूचल फंड में किए लेन-देन को, खासतौर से बिक्री को जरूर बताएं। धारा 80-सी के निवेश की डेढ़ लाख तक की छूट प्राप्त करें। दान या मेडिकल इंश्योरेंस की छूट प्राप्त करें। कहीं गलत टीडीएस कटा है तो नोटिस देकर सही करवाएं। बैंक अकाउंट को वैलिडेट करें ताकि रिफंड सुगमता से मिल सके। पेन और आधार को लिंक करें।

विभाग ने तारीख नहीं बढ़ाई तो और बढ़ेगी परेशानी
कर सलाहकार अनीश खान ने बताया कि आयकर विभाग की लाॅन्चिंग के बाद से ही सही नहींं चल रहा रही है। कई दस्तावेज अपलाेड नहीं हाे रहे हैं और रिटर्न की रसीद नहीं आ रही है। अभी भी कई लोगो के रिटर्न नहीं भर पाए हैं। तारीख नहीं बढ़ाई ताे काफी लोगो को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। नए पोर्टल में स्पीड और कार्य क्षमता में कमी से कभी लॉगिन नहीं होता, ओटीपी प्राप्त नहीं होता, पासवर्ड नहीं बदलता तो कभी ऑडिट रिपोर्ट अपलोड नहीं हो पा रही है।

खबरें और भी हैं...