गर्भपात की सूचना पर दबिश:मकान को सील किया, कमेटी ने शुरू की जांच

सीकर7 दिन पहले
रामपुरा में सील मकान।

सीकर के धोद इलाके में शनिवार देर रात पुलिस और चिकित्सा विभाग की टीम ने दबिश दी। दरअसल यहां एक मकान में गर्भपात की सूचना मिली थी। जब पुलिस और चिकित्सा विभाग की टीम मौके पर पहुंची तो मकान में एक क्लीनिक बना हुआ था। जहां हॉस्पिटल जैसा स्ट्रक्चर मिला। जिसके बाद मकान को सील कर दिया गया है। मामले में स्टेंडिंग कमेटी जांच कर रही है। इसके बाद ही पूरे मामले का पता चल सकेगा।

दरअसल शनिवार देर रात रामपुरा गांव के ग्रामीणों ने सूचना दी कि गांव में एक सरकारी नर्स के घर पर कुछ पेशेंट सीकर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल से 50 हजार रुपए देकर गर्भपात करवाने के लिए आए हैं। ग्रामीणों के मुताबिक रात करीब 8 से 9 बजे के बीच मकान से एक महिला भी बाहर आई। जिसके ब्लीडिंग हो रही थी। ग्रामीणों ने इसकी सूचना तुरंत पुलिस और चिकित्सा विभाग को दी।

मामले को लेकर आज दोपहर रामपुरा गांव के ग्रामीणों ने मीटिंग भी की।
मामले को लेकर आज दोपहर रामपुरा गांव के ग्रामीणों ने मीटिंग भी की।

कुछ देर बाद सदर थाना पुलिस और कूदन बीसीएमओ कुलदीप दानोदिया मकान पर पहुंचे। जिन्होंने मकान की तलाशी ली तो वहां कोई पेशेंट नहीं मिला। हालांकि मकान में हॉस्पिटल में काम आने वाली कुछ बेड रखे हुए थे। साथ ही हॉस्पिटल जैसा स्ट्रक्चर बना हुआ था। जिसके बाद मकान को सील कर दिया गया। मामले में अब तहसीलदार, पुलिस, बीसीएमओ और ड्रग कंट्रोलर की संयुक्त स्टेंडिंग कमेटी जांच कर रही है।

देर रात मौके पर मौजूद बीसीएमओ कुलदीप सहित अन्य।
देर रात मौके पर मौजूद बीसीएमओ कुलदीप सहित अन्य।

सीएमएचओ डॉ निर्मल सिंह ने बताया कि शनिवार रात कूदन बीसीएमओ कुलदीप दानोदिया ने मामले को लेकर सूचना दी थी। फिलहाल मामले में स्टेंडिंग कमेटी जांच कर रही है।

कूदन बीसीएमओ कुलदीप दानोदिया ने बताया कि मकान में हॉस्पिटल जैसा स्ट्रक्चर बना हुआ था। जिसके बाद मकान को सील किया गया है। मामले में स्टेंडिंग कमेटी जांच कर रही है।