पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • The Khatu Temple Committee Gave A Proposal For Not Filling The Lakkhi Fair Citing Corona Infection, The Collector Agreed

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खाटू मेला:कोरोना संक्रमण का हवाला देकर खाटू मंदिर कमेटी ने लक्खी मेला नहीं भरने का दिया प्रस्ताव, कलेक्टर ने जताई सहमति

सीकर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 14 से 29 मार्च तक श्रद्धालुओं के लिए ऑनलाइन बुकिंग के दर्शन भी बंद रहेंगे

खाटूश्यामजी का फाल्गुनी लक्खी मेला इस बार नहीं भरेगा। 4 दिन पहले खाटू श्याम मंदिर कमेटी की ओर से प्रशासन को दिए गए प्रस्ताव पर प्रशासन ने सहमति जताते हुए लक्खी मेला नहीं भरवाने का निर्णय लिया है। कोरोना संक्रमण में श्रद्धालुओं की सुरक्षा को लेकर कमेटी की ओर से यह प्रस्ताव दिया गया था।

हालांकि श्रद्धालुओं का कहना है कि अब सब कुछ पटरी पर आने लगा है तो खाटू मेला भी भरना चाहिए। यह श्रद्धालुओं की आस्था से जुड़ा हुआ है। देश के कई इलाकों में बड़े-बड़े धार्मिक मेलों का आयोजन हो रहा है। मंदिर कमेटी की ओर से दिए गए प्रस्ताव में बताया गया था कि फिलहाल कोरोना वैक्सीन सभी लोगों तक नहीं पहुंच पाई है। मेला आयोजन तक भी चुनिंदा लोगों तक ही वैक्सीन पहुंच पाएगी।

ऐसे में श्रद्धालुओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मेले का आयोजन नहीं होना चाहिए। कोरोना संक्रमण के चलते 14 से 29 मार्च तक श्रद्धालुओं के लिए ऑनलाइन बुकिंग के दर्शन भी बंद रहेंगे। साढ़े तीन सौ साल में यह पहला मौका है, जब फालगुन की एकादशी को श्रद्धालु बाबा के दर्शन नहीं कर पाएंगे।

^मेले तक वैक्सीन सभी भक्तों तक नहीं पहुंच पाएगी। ऐसे में मेला नहीं भरने के संबंध में प्रस्ताव दिया गया था। प्रशासन ने भी सहमति जताई।
शम्भू सिंह, अध्यक्ष, खाटू मंदिर कमेटी
^प्रशासन व मंदिर कमेटी की मीटिंग में फैसला लिया गया है कि खाटू मेला नहीं भरवाया जाए।
अविचल चतुर्वेदी, कलेक्टर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें