• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • The Miscreant Fired Two, The Showroom Owner Bowed Down And Saved His Life; Threatened In Slip If 10 Lakh Is Not Given, There Will Be A Big Explosion

पुलिस चौकी से 150 मी. दूर फायरिंग:बदमाश ने दो फायर किए, शोरूम मालिक ने झुककर जान बचाई; पर्ची में धमकी दी- 10 लाख नहीं दिए तो बड़ा धमाका होगा

सीकर/खंडेला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शोरूम के बाहर खड़े होकर बदमाश ने इस तरह व्यापारी पर दो फायर किए - Dainik Bhaskar
शोरूम के बाहर खड़े होकर बदमाश ने इस तरह व्यापारी पर दो फायर किए

कस्बे में मंगलवार को सिनेमा हॉल के पास स्थित कपड़ा शोरूम मालिक पर दो फायर किए गए, लेकिन वे बच गए। इससे कुछ देर पहले एक युवक ने शोरूम में आकर उन्हें एक पर्ची दी थी, जिस पर लिखा था कि 10 लाख की फिरौती दो नहीं तो जान से मार देंगे। इस धमकी में हत्या व फायरिंग के मामले में शामिल बदमाश विक्रम बामरड़ा का नाम लिखा था। पर्ची थमाने वाले युवक ने शोरूम से निकलते वक्त व्यापारी पर दो फायर किए। व्यापारी समय रहते झुकने से बच गया। इसके बाद युवक फरार हो गया। यह घटना पुलिस चौकी से 150 मीटर दूर हुई।

व्यापारी को दिया गया फिरौती का पत्र।
व्यापारी को दिया गया फिरौती का पत्र।

घटना के बाद व्यापारियों ने बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए अपने प्रतिष्ठान बंद कर दिए। पुलिस और प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मंगलवार सुबह 10.30 बजे बालाजी शाेरूम के मालिक भुवनेश माेदी काउंटर पर बैठे थे। उनके 10 कर्मचारी काम में लगे थे। इसी दौरान मास्क लगाए एक युवक शोरूम में आया। उसने जेब से पर्ची निकालकर भुवनेश माेदी काे दी। पर्ची में लिखा था कि मैं विक्रम बामरड़ा बाेल रहा हूं। तेरे पास पांच दिन का टाइम है। मैं फाेन करूंगा वहां 10 लाख रुपए लेकर आ जाना।

ये नमूना ही दिया है। पैसे टाइम पर नहीं पहुंचे ताे धमाका हाे जाएगा और पुलिस काे शिकायत करने की गलती मत करना। भुवनेश पर्ची काे पढ़ ही रहे थे कि वो युवक शाेरूम के बाहर निकला और बाहर लगे कांच के अंदर से दाे फायर कर दिए। इसके बाद बाहर बाइक लेकर खड़े अपने साथी के साथ फरार हो गया। पुलिस ने जिलेभर में नाकाबंदी करवाई, लेकिन आरोपी हाथ नहीं लगे।

इनसाइड स्टोरी : हत्या के आरोपी विक्रम बामरड़ा के नाम से फिरौती मांगी
एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि फायरिंग करने वाले और फिराैती की पर्ची देने वाले दाेनाें बदमाशाें की पहचान पुलिस ने कर ली है। उनके संभावित ठिकानाें पर दबिश दी जा रही है। जल्द ही दोनों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आराेपियाें ने व्यापारी काे डराने के मकसद से फायरिंग की थी। इससे पहले व्यापारी भुवनेश या उसके परिवार से किसी ने पैसाें की मांग नहीं की थी।
इधर, नीमकाथाना एएसपी रतनलाल भार्गव के अनुसार बाइक पर दाे बदमाश थे, जिनमें से एक ने फायरिंग की। दूसरा बाइक स्टार्ट कर बाहर खड़ा रहा। दाेनाें बदमाश सीकर जिले के ही हैं। खंडेला थानाधिकारी घासीराम ने बताया कि जिस विक्रम बामरड़ा के नाम से धमकी दी गई वह 2017-18 में हत्या के आरोप में जेल जा चुका है। पिछले पांच-छह महीने से वह जमानत पर है। अब यह पता लगाया जा रहा है कि जिसके नाम की पर्ची युवक लेकर आया था उसका विक्रम के साथ क्या कनेक्शन है।

सबूत : मौके से मिले गाेली के दाे खाेल, सीसीटीवी में कैद हुए बदमाशों के चेहरे
पुलिस काे मौके से गोली के दो खोल बरामद हुए हैं। घटना के बाद नीमकाथाना एएसपी रतनलाल भार्गव, सीओ गिरधारीलाल शर्मा और थानाधिकारी घासीराम माैके पर पहुंचे और घटनाक्रम के साक्ष्य जुटाए। इलाके के व्यापारी नजदीक स्थित पुलिस चाैकी पहुंचे और आराेपियाें काे पकड़ने की मांग कर प्रतिष्ठान बंद कर दिए। इसके बाद एसपी कुंवर राष्ट्रदीप भी घटना स्थल पहुंचे और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर फिराैती की पर्ची देकर जाने वाले आराेपी की पहचान कर उसकाे जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश पुलिस अधिकारियाें काे दिए। पुलिस यह पता लगा रही है कि इनके पास हथियार कहां से आए और कौनसी दिशा में जा सकते हैं।

बेखाैफ बदमाश : 16 सैकंड में कर दी वारदात, फिर आराम से भाग निकले
घटना स्थल से पुलिस चाैकी करीब 150 मीटर दूर है। बदमाश का एक साथी बाइक स्टार्ट कर शाेरूम से 20 मीटर दूरी पर खड़ा था। युवक बेखाैफ हाेकर शाेरूम के अंदर घुसा, जबकि वहां करीब 10 कर्मचारी और भी काम में जुटे थे। शाेरूम मालिक उसके द्वारा दी गई पर्ची काे पढ़ने लगा। इतनी देर बदमाश यहीं रुका रहा और इसके बाद शाेरूम से बाहर निकला। उसने पीठ के पीछे से पिस्टल निकाली और दो फायर करने के बाद पिस्टल काे हाथ में लिए बाइक सवार साथी के पास पहुंचा। पिस्टल काे वापस पीठ के पीछे दबाई और दाे सैकंड में भाग निकले। फायरिंग करने वाला सीसीटीवी में बिलकुल बेखाैफ दिखा।

मैं समय रहते झुक गया, नहीं तो गोली लग जाती: भुवनेश मोदी, शोरूम मालिक
मैं काउंटर पर बैठा था। इसी दाैरान चेहरा ढके युवक अंदर आया। उसने एक पर्ची निकाल कर थमा दी। उसे पूरा पढ़ पाता, इससे पहले ही युवक बाहर निकल गया और दाे फायर किए। मैं समय रहते झुकता नहीं तो गोली मुझे लग सकती थी। एक गोली मेरे बगल से हाेती हुई साड़ियाें की अलमारी में जा घुसी। इस दाैरान शाेरूम पर करीब 10 कर्मचारी थे।
मैंने आराेपी काे पकड़ने की साेची, लेकिन दाे फायर होने से मैं डर गया। मेरी किसी से दुश्मनी नहीं है। इससे पहले किसी का ना ताे फिराैती के लिए फाेन आया और न ही किसी ने धमकी दी थी। घटना के बाद आराेपी शाेरूम के पीछे से भागे। यहां से तीन रास्ते निकलते हैं। इनमें एक गुंगारा, दूसरा पलसाना और तीसरा कांवट बाइपास की तरफ निकलता है।

भास्कर पड़ताल: अन्य राज्याें से सीकर में हो रही है अवैध हथियारोंं की तस्करी
हरियाणा-यूपी सहित अन्य राज्याें से अवैध हथियाराें की जिले में खेप लगातार बढ़ रही है। सीमावर्ती नीमकाथाना-खंडेला इलाकों में सबसे ज्यादा अवैध हथियारों के मामले आ रहे हैं। इस इलाके में अवैध खनन, शराब, गैंगवार विवाद के कारण अक्सर फायरिंग के मामले आते रहे हैं। अवैध हथियारों को लेकर दैनिक भास्कर ने पुराने मामलों की पड़ताल की।
पुलिस पूछताछ में बदमाशों ने खुलासा किया कि महज 8 से 15 हजार रुपए में देशी कट्‌टा मिल जाता है। ये हथियार हरियाणा और यूपी से तस्करी के जरिए लाए जाते हैं। एंड्राइड फोन से हथियार खरीद का ट्रेड बदल रहा है। अब वीडियो कॉल पर सैंपल दिखाकर हथियार सप्लाई तक किए जा रहे हैं। हालात यह है कि बदमाश हथियार लेकर खुले आम घूमने लगे हैं। रसूख दिखाने के लिए शादी समारोह में हवाई फायर के कई मामले सामने आ रहे हैं। अपहरण व फिरोती के मामलों में हवाई फायर कर दबाव बना रहे हैं।

  • खंडेला में दाे साल पहले दाे बार फायरिंग की घटना हुई थी। दोनों मामलों में आरोपी पकड़े गए।
  • नीमकाथाना में डेढ़ महीने पहले गोली मारकर एक युवक की हत्या कर दी गई थी।
  • पाटन में अगस्त, सितंबर व छह महीने पहले फायरिंग की तीन घटनाएं हुईं।
  • फतेहपुर में दाे महीने पहले बाइक सवार युवाओं पर फायरिंग कर बदमाश डेढ़ लाख रुपए ले गए थे।
  • श्रीमाधाेपुर में 20 जुलाई काे व्यापारी पर फायरिंग हुई थी।
खबरें और भी हैं...