वोटर कार्ड बनेंगे एप से:मतदाता बनने के लिए विभाग के एप से घर बैठेे बनाएं वाेटर आईडी

सीकरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चुनावों को लेकर युवाओं के बीच काफी उत्साह है। जब भी चुनाव आते हैं तो युवाअाें में अलग ही उत्साह देखने को मिलता है। अगर आपकी उम्र 18 साल हो गई है अाैर आप वोटर लिस्ट में अपना नाम जुड़वाना चाहते हैं तो अब सरकारी कार्यालय एवं शिविरों में जाकर समय खराब करने की जरूरत नहीं हैं। सरकार की ओर से जारी किए गए वीएचए एप (वोटर हेल्पलाइन एप) के जरिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको मोबाइल के प्ले स्टोर से वीएचए एप डाउनलोड करना होगा। इसके जरिए घर बैठे नए मतदाता अपना वोटर आईडी कार्ड बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

वर्तमान में डिजिटल युग है। केंद्र हो या राज्य सरकार सभी का डिजिटल पर जोर है। इससे कागजी कार्रवाई कम हो। इसी को देखते हुए भारत निर्वाचन आयोग ने तकनीकी नवाचार करते हुए वीएचए (वोटर हेल्पलाइन एप) लॉन्च किया है जो खासकर युवाओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है। युवा घर बैठे अपने मोबाइल में एप डाउनलोड कर खुद का मतदाता पहचान पत्र बनाने के लिए आसानी से आवेदन कर सकेंगे। जो ऑनलाइन आवेदन करने में सक्षम नहीं हैं, उनका ऑनलाइन आवेदन बीएलओ एप के जरिए अपलोड करेगा। एप के माध्यम से एक ही स्थान पर पंजीकरण, सूचना, शिकायत आदि कार्य हो सकेंगे। साथ ही भारत निर्वाचन आयोग की जानकारी से अपडेट रहेंेगे।

वीएचए एप से घर बैठे करें ऑनलाइन आवेदन
काेविड में वीएचए एप काफी हेल्पफुल रहेगा। इसके जरिए घर बैठे मतदाता सूची में नाम जुड़वाने, हटवाने एवं नए मतदाता अपना मतदान पहचान पत्र बनवाने के लिए आवेदन कर पाएंगे। जिस पर उनके मोबाइल पर एक कोड भी जारी होगा।

उसके जरिए घर बैठे वे अपने आवेदन की स्थिति देख सकेंगे। इस बार एक से 30 नवंबर तक चलने वाले अभियान में आवेदन ऑफ लाइन लेने का विचार नहीं हैं। एप के जरिए ऑनलाइन ही सारे आवेदन हो, इसके लिए प्रयास कर रहे हैं। जो ऑनलाइन आवेदन नहीं कर सकेंगे, उनसे बीएलओ ऑफलाइन आवेदन लेकर एप पर ऑनलाइन अपलोड करेंगे, ताकि किसी तरह की नाम में त्रुटि आदि रहने की शिकायतें भी कम होगी। साथ ही समय पर निस्तारण होने के साथ कागजी कार्रवाई भी कम होगी।

एप के जरिए ये होंगे काम: मतदाता सूची में नाम खोजना व नए मतदाताओं का मतदान पहचान पत्र बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकेगा। विदेश में रह रहे मतदाताओं का पंजीयन हो सकेगा। नाम जोड़ने, हटाने एवं त्रुटि में सुधार के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। मतदाता सूची संबंधी कोई शिकायत या मतदाता प्रविष्टियों में कोई सुधार के लिए आवेदन हो सकेगा। निर्वाचन से संबंधित शिकायतें एवं उनके निस्तारण की स्थिति में ऑनलाइन शिकायत दर्ज करवा सकेंगे।

खबरें और भी हैं...