बिजली चोरी पकड़ने गई टीम पर हमला, कपड़े फाड़े:लोगों ने विभाग की गाड़ी पर फेंके पत्थर, लाइन ठीक करने गए कर्मचारियों पर भी हमला

सीकर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
VCR की कार्रवाई करने गई टीम के साथ लोगों ने गाली-गलौज की और गाड़ी पर पत्थर भी फेंके। - Dainik Bhaskar
VCR की कार्रवाई करने गई टीम के साथ लोगों ने गाली-गलौज की और गाड़ी पर पत्थर भी फेंके।

सीकर में फतेहपुर रोड पर खटीकान मोहल्ले में बिजली चोरों के खिलाफ कार्रवाई करने गई बिजली विभाग की टीम पर शनिवार को कुछ लोगों ने हमला कर दिया। हमले में 2 कर्मचारियों को चोट आई। दोपहर में बिजली लाइन में आई खराबी ठीक करने के लिए कुछ कर्मचारी मोहल्ले में गए, तो उन पर भी लोगों ने हमला कर दिया। बिजली विभाग की कनिष्ठ अभियंता ने कोतवाली पुलिस थाना में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

सीकर में बिजली विभाग के सीएसडी सेकेंड में कार्यरत पूनम चौधरी ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है कि 22 जनवरी को सुबह 10:30 बजे उन्हें सूचना मिली कि फतेहपुर रोड पर खटीकान मोहल्ले में बिजली चोरी की जा रही है। ऐसे में वह विभाग के कर्मचारी महेंद्र, जगदीश, प्रकाश के साथ FRT टीम को लेकर VCR की कार्रवाई करने के लिए गई। जहां सांवरमल सामरिया व अभिषेक सामरिया के घर बिजली की चोरी की जा रही थी। जब उन्होंने VCR की कार्रवाई शुरू की तो दोनों व्यक्तियों के घर वालों ने हमारे साथ गाली-गलौज की। उन्होंने विभाग की गाड़ी पर पत्थर भी फेंके, जिससे गाड़ी का शीशा टूट गया।

पूनम चौधरी ने कहा कि हमले में कर्मचारी महेंद्र और मनीष के चोट आई। इसके साथ ही वहां मौजूद लोगों ने कर्मचारियों के कपड़े भी फाड़ दिए। हमले के बाद हम वहां से लौट आए। इसके बाद दोपहर करीब 2 बजे बाद टीम बिजली लाइन में आई खराबी को ठीक करने के लिए खटीकान मोहल्ले में पहुंची तो उन लोगों ने दोबारा कर्मचारियों पर हमला किया। फिलहाल पुलिस ने रिपोर्ट पर मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।