जेवरात और बाइक के साथ दो गिरफ्तार:जीण माता मंदिर में चोरी कर भागे थे,कई जिलों में 18 वारदात करना कबूला

सीकर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार दोनों आरोपी। - Dainik Bhaskar
गिरफ्तार दोनों आरोपी।

दिन में सूने मकानों और मंदिरों की रैकी करते। रात के समय चोरी की वारदात को अंजाम देते। नीमकाथाना के जीणमाता मंदिर में चोरी के मामले में दो आरोपी पकड़े गए। दोनों ने सीकर, जयपुर ग्रामीण और दौसा जिले में चोरी की 18 वारदातों को करना कबूला हैं। दोनों से बाइक, सोने-चांदी के जेवरात और छत्र जब्त किए है। फिलहाल पुलिस गैंग के अन्य बदमाशों की तलाश में जुटी है।

आरापियों के गांव में दबिश देकर पकड़ा
नीमकाथाना सदर पुलिस थाना अधिकारी कस्तूर वर्मा ने बताया कि 23 अक्टूबर को किशनपुरा गांव के रहने वाले पूरणमल मीणा ने जीण माता मंदिर में चोरी का मामला दर्ज करवाया था। मंदिर से जेवरात, 480000 रुपए की नगदी और डेढ़ किलो के बीच चांदी के छत्र चोरी हुए थे। सीकर एसपी ने चोरों की धरपकड़ के लिए विशेष टीम का गठन किया। आस-पास के सभी रूट पर लगे 50 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों के फुटेज देंखे गए। मामले में बुधवार देर शाम दो युवकों रामचंद्र मीणा (19) और कमलेश मीणा (22) को उनके गांव जुगलपुरा से गिरफ्तार किया गया। 1 किलो का चांदी का छत्र, 37 ग्राम के दो सोने के छत्र और वारदात में काम में ली गई एक बाइक जब्त की गई। दोनों आरोपी सीकर जिले के अजीतगढ़ क्षेत्र के ही रहने वाले हैं।

पूछताछ में 18 वारदात कबूली
थाना अधिकारी कस्तूर वर्मा ने बताया कि आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि आरोपी दोपहर में सूने मकानों और मंदिरों की रैकी करते थे। रात में चोरी की वारदात को अंजाम देते थे। दोनों आरोपियों ने सीकर, जयपुर ग्रामीण और दूसरे इलाके में चोरी की 18 वारदात करना कबूला है। 2 महीने में अजीतगढ़ क्षेत्र में मंदिरों और सरकारी स्कूल चोरी की वारदात में भी शामिल थे।