पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राजनीति:शेखावाटी की राजनीति को समझिए, कई नेताओं को मिल सकती है मंत्रिमंडल में जगह

सीकर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गहलोत के पक्ष में : खेतड़ी से डॉ. जितेंद्रसिंह, पिलानी से जेपी चंदेलिया, नवलगढ़ से डॉ. राजकुमार शर्मा, मंडावा से रीटा चौधरी और उदयपुरवाटी से राजेंद्रसिंह गुढ़ा गहलोत के पक्ष में हैं। ये मीटिंगों मेंें भी शामिल हुए।
मंत्री की संभावना : राजेंद्रसिंह गुढ़ा, डॉ. राजकुमार शर्मा, डॉ. जितेंद्र सिंह को मंत्रिमंडल में शामिल करने की संभावना है।
गहलोत के पक्ष में : कांग्रेस के चार विधायक है, इनमें सुजानगढ़ से मास्टर भंवरलाल मेघवाल, सरदारशहर से पं. भंवरलाल शर्मा, तारानगर से नरेंद्र बुढानिया व सादुलपुर से कृष्णा पूनिया विधायक हैं। तारानगर व सादुलपुर विधायक फिलहाल मुख्यमंत्री गहलोत के कैंप में है। सुजानगढ़ विधायक मास्टर भंवरलाल मेघवाल फिलहाल अस्वस्थ हैं। 

गहलाेत के पक्ष में : आठ में से छह विधायक गहलोत के पक्ष में है। गोविंद सिंह डोटासरा, परसराम मोरदिया, हाकम अली, राजेंद्र पारीक, वीरेंद्र सिंह और निर्दलीय विधायक महादेव सिंह खंडेला पक्ष में हैं।
मंत्री की संभावना : मोरदिया, राजेंद्र पारीक और महादेव सिंह खंडेला को मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है।
पायलट के समर्थन में : झुंझुनूं विधायक बृजेंद्र ओला पायलट के करीबी हैं। दो दिन से चल रही मुख्यमंत्री के साथ विधायकों की बैठक में भी नहीं पहुंचे। गहलोत जब 2008 में दुबारा मुख्यमंत्री बनने वाले थे, तब शीशराम ओला ने जयपुर जाकर विरोध किया था। तब से ओला परिवार पायलट के करीबी है। इसलिए बिजेंद्र ओला पायलट के समर्थन में हैं। 

विरोध : कांग्रेस जिला सचिव व आईटी सेल संयोजक विकास गुर्जर ने इस्तीफा दे दिया है। कांग्रेस सेवा दल के झुंझुनूं जिला अध्यक्ष राजपाल ग्रेट ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया।

मंत्री की संभावना : नरेंद्र बुढानिया काे मंत्री बनाया जा सकता है। इनका नाम प्रदेशाध्यक्ष के लिए भी चला था। भंवरलाल मेघवाल बीमार हैं और भंवरलाल शर्मा पायलट खेमे में चले गए। कृष्णा पूनिया राजगढ़ प्रकरण में फंसी हंै।

पायलट के समर्थन में : सरदारशहर विधायक पं. भंवरलाल शर्मा पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट के खेमे में है। 

पायलट के समर्थन में : पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व श्रीमाधोपुर विधायक दीपेंद्र सिंह शेखावत और नीमकाथाना विधायक सुरेश मोदी पायलट के साथ हैं। दीपेंद्र ने मंगलवार को कहा कि विकास कार्य नहीं होने के कारण वे व्यथित हैं। इसलिए पायलट गुट का समर्थन कर रहे हैं। 

विरोध : श्रीमाधोपुर विधायक दीपेंद्रसिंह शेखावत के बेटे बालेंदुसिंह पीसीसी सचिव हैं। पहले से पायलट गुट में रहने के कारण ही इन्हें पीसीसी सचिव बनाया गया था। पायलट को पद से हटाए जाने के बाद अब संगठन में बालेंदु की कुर्सी भी खतरा नजर आ रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें