सहयोग व समर्थन की अपील की:संयुक्त किसान मोर्चा का दावा-27 के भारत बंद के दौरान रीट अभ्यर्थियों को नहीं होने देंगे परेशानी

सीकर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

27 को प्रस्तावित भारत बंद को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने सभी वर्गों से सहयोग व समर्थन की अपील की। संयुक्त किसान मोर्चा राजस्थान के सदस्य एवं अखिल भारतीय किसान सभा के प्रदेशाध्यक्ष पेमाराम ने कहा, रीट परीक्षा के अभ्यर्थियों को किसी तरह की परेशानी नहीं होने दी जाएगी।

संयुक्त किसान मोर्चा सीकर की कोर कमेटी के सदस्य पूर्णमल सुंडा, पूर्व प्रधान उस्मान खान, एटक के औंकारमल मूंड, किसान सभा के जिला महासचिव सागर खाचरिया, भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) के सीकर जिला अध्यक्ष दिनेश सिंह जाखड़ ने सीकर जिला मुख्यालय पर कार्यरत सीकर व्यापार महासंघ (रजि.), जिला सीकर व्यापार महासंघ (रजि.), संयुक्त व्यापार महासंघ, सीकर व्यापार संघ सहित जिले के सभी तहसील, पालिका एवं ग्रामीण अंचलों के व्यापार संघों के पदाधिकारियों से बंद को लेकर संपर्क किया। पदाधिकारियों ने बंद को सफल बनाने का आह्वान किया।

कृषि कानून के विरोध में किसान मोर्चा ने टोल बूथ पर मीटिंग की

संयुक्त किसान मोर्चा की शुक्रवार को केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानून के विरोध में दादिया टोल बूथ पर संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक हुई। बैठक में पूर्व प्रधान उस्मान खान ने कहा, भारत बंद के दौरान अतिआवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी बाजार एवं दुकानें बंद रहेगी। छात्रों की आवाजाही के लिए बस संचालन जारी रखा जाएगा। टोल बूथ से गुजरने वाले छात्रों एवं यात्रियों को काले कानूनों की जानकारी दी जाएगी।

जाट महासभा जिलाध्यक्ष जगदीश फैजी ने कहा, टोल बूथ पर रीट परीक्षार्थियों के लिए निशुल्क भोजन की व्यवस्था संयुक्त मोर्चा द्वारा की जाएगी। एडवोकेट झाबर सिंह काजला पूर्व सरपंच बेरी ने भारत बंद के ज्यादा से ज्यादा किसानों से टोल बूथ पर पहुंचने का आह्वान किया। 27 सितंबर को टोल बूथ पर मीटिंग के बाद आंदोलन की आगामी रणनीति तैयार की जाएगी।

खबरें और भी हैं...