विवाद / शराब बेचने की बात को लेकर हुई कहासुनी के चलते फायरिंग, एक की मौत, दो घायल

Firing, one killed, two injured due to hearing over liquor sale
X
Firing, one killed, two injured due to hearing over liquor sale

  • सादुलपुर की घटना: बोलेरो में आए हमलावरों ने बस ऑपरेटर राजेंद्र पर कई फायर किए
  • हिसार के अस्पताल में मौत बेटा व एक अन्य घायल

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

सादुलपुर. लोको कॉलोनी के वार्ड 16 में शुक्रवार शाम बोलेरो में आए हमलावरों ने शराब बेचने की बात को लेकर हुई कहासुनी के चलते तीन जनों पर फायरिंग कर दी। फायरिंग में एक जने की हिसार के अस्पताल में मौत हो गई, जबकि उसका बेटा व एक अन्य घायल हो गया। मृतक के 6 से 7 गोलियां लगनी बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि शराब बेचने के मामले को लेकर आरोपियों के साथ शुक्रवार सुबह कहासुनी हो गई थी। वारदात के बाद हमलावर भाग गए। फायरिंग के चलते मोहल्लेवासियों में दहशत बनी हुई है। घटना की जानकारी मिलने पर एएसपी भरतराज, थानाधिकारी विष्णुदत्त, एएसआई राजेंद्रप्रसाद पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। घटना के बाद चौतरफा नाकाबंदी करवाई गई, परंतु देर शाम तक हमलावरों का कोई सुराग नहीं लगा। 
जानकारी के अनुसार बस ऑपरेटर राजेंद्र गढ़वाल (50) निवासी ख्याली हाल वार्ड संख्या 16, उसका पुत्र सुनील (24) तथा मोहल्ले का विनोद वाल्मीकि (38) घर से करीब 100 मीटर दूर गली में बैठे हुए थे। तभी बोलेरो में आए इसी मोहल्ले के कपिल व अनिल शर्मा सहित पांच-सात अन्य ने फायरिंग शुरू कर दी। राजेंद्र गढ़वाल के पेट, सीने व कंधे आदि पर छह से सात गोलियां लगी, वहीं विनोद वाल्मीकि के बाएं पैर में और सुनील गढ़वाल के दाएं हाथ पर गोली लगना बताया जा रहा है। घायलों को हिसार के अस्पताल में ले जाया गया, जहां पर राजेंद्र की मौत हो गई।

सुनील व विनोद का उपचार चल रहा है, जो खतरे से बाहर है। देर शाम तक घटना को लेकर थाने में मामला दर्ज नहीं हुआ। एएसपी भरतराज ने बताया कि कपिल और अनिल शर्मा द्वारा फायरिंग करना बताया जा रहा है।  एएसपी ने बताया कि कपिल और अनिल का राजगढ़ में शराब का ठेका है। मामले को लेकर जांच की जा रही है। 
क्षेत्र में लॉकडाउन में हत्या की तीसरी वारदात : राजगढ़ क्षेत्र में लॉकडाउन में हत्या की ये तीसरी वारदात है। लॉकडाउन के दौरान इतने जनों के हथियारों सहित बोलेरो में सवार होकर आना और फायरिंग कर वापस भाग जाना पुलिस के लिए चुनौती बन गया है। शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में कई जगह नाके लगाए हैं, उन पर पुलिस के जवान भी तैनात है। फिर भी आरोपी भाग गए। लॉकडाउन के दौरान ही हमीरवास व सिद्धमुख थानाक्षेत्र में भी हत्या की एक-एक वारदात हो चुकी है। हमीरवास थानाक्षेत्र में हुई हत्या भी गैंगवार से जुड़ी हुई थी।
मोहल्ले में शराब बेचने से मना करने पर फायरिंग, दो आरोपियों ने देख लेने की धमकी दी थी
अनिल गढ़वाल ने बताया कि शुक्रवार सुबह उसके पिता राजेंद्र गढ़वाल व भाई सुनील ने कपिल व अनिल शर्मा को मोहल्ले में शराब बेचने से मना किया था। तब दोनों ने धमकी दी थी कि शाम को बता देंगे। शाम करीब 5.40 बजे वह, उसका पिता, भाई व विनोद वाल्मीकि घर के पास ही गली में बैठे हुए थे, तभी कपिल व अनिल शर्मा निवासी बेवड़ हाल वार्ड 16 और पांच-सात अन्य जने बोलेरो में सवार होकर आए और अंधाधुंध फायर करने शुरू कर दिए। अनिल ने बताया कि कपिल व अनिल संपत नेहरा गैंग से जुड़े हुए हैं। कपिल व अनिल शर्मा निवासी बेवड़ दोनों सगे भाई हैं। हाल ही में उन्होंने शराब का ठेका खोल रखा है। शराब का ठेका स्टेशन एरिया के आसपास बताया जा रहा है। अनिल गढ़वाल ने बताया कि कपिल व अनिल मोहल्ले में शराब बेचते थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना