पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

समस्या:हांसियावास में नल में पानी आने से पहले ही लग जाती है मटकों की कतार

सादुलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हांसियावास में पेयजल किल्लत, गांव में 20 पीएसपी में से 10 में ही आ रहा पानी, उनमें में बहुत कम प्रेशर, लोग हो रहे परेशान

गांव हांसियावास के ग्रामीण गर्मी की शुरुआत के साथ ही पेयजल समस्या से परेशान हैं। पेयजल समस्या के हालात भी कुछ ऐसे है कि गांव के सार्वजनिक नल पर पानी की बूंद तो बाद में टपकती है, उससे पहले ही नल के पास दर्जनों की संख्या में मटकों की कतार लग जाती है। गांव में करीब 20 पीएसपी है। इनमें से 10 खराब हैं, जबकि 10 में पेयजल सप्लाई आती है, लेकिन उनमें भी बहुत कम प्रेशर से आता हैै। इस कारण ग्रामीणों को घंटों लाइन में लगकर पानी भरने के लिए अपनी बारी का इंतजार करना पड़ता है। नल में पानी आने की सूचना मिलते ही महिलाएं व बच्चे मटके लेकर नलों की तरफ दौड़ पड़ते हैं। मटका कतार में लगाकर अपनी बारी की प्रतीक्षा करते रहते हैं।
गांव के महावीरप्रसाद सिहाग, इंद्रसिंह जेवलिया, कर्णसिंह मेघवाल, राजेश पूनिया, अशोक पूनिया, मनोज कुमार, सुनील आदि ने बताया कि आपणी पेयजल योजना के रामसरा टिब्बा कलस्टर से जुड़े गांव में पेयजल आपूर्ति पर्याप्त मात्रा में नहीं होने से महिलाएं व बच्चे पानी के जुगाड़ में दिनभर इधर-उधर भटकते रहते हैं। गांव में लगी अधिकांश पीएसपी नलों में पानी नहीं आता। गर्मी में हर बार प्रशासन की ओर से गांव में टैंकरों के जरिए पेयजल आपूर्ति की जाती है, परंतु इस बार अभी तक ऐसा नहीं किया गया हैै। विभागीय व प्रशासनिक अधिकारियों को शिकायत के बावजूद कोई सुधार नहीं हुआ है।
सेऊवा में टैंकरों से डलवा रहे पानी : सेऊवा गांव में पेयजल किल्लत से ग्रामीण परेशान हैं। गांव में पेयजल आपूर्ति नहीं होने के कारण पानी के टैंकर डलवाने पड़ रहे हैं। मोहनलाल, रामेश्वरलाल, बद्रीनारायण आदि ने बताया कि पेयजल आपूर्ति सही नहीं होने के कारण गांव में पेयजल किल्लत है। वहीं गोशाला में भी पानी के टैंकर डलवाने पड़ रहे हैं।
साहवा : वार्ड 6 व 7 में 10 दिन से पेयजल किल्लत, बूस्टर काम में लेने से कई घरों में नहीं पहुंच पाती है सप्लाई
गांव के वार्ड 6 व 7 में पिछले 10 दिन से पेयजल समस्या है। वार्ड के कई घरों में सप्लाई के दौरान कुछ लोग बूस्टर का उपयोग करते है, जिनके कारण अधिकांश लोग पेयजल सप्लाई से वंचित रह जाते हैं। वार्ड के रघुवीर पारीक ने बताया कि दोनों वार्डों के कुछ घरों में लोग सप्लाई के दौरान पानी खींचने के लिए बूस्टर चला लेते हैं, जिसके कारण उनके पास तो पर्याप्त पानी पहुंच जाता है, जबकि अन्य घरों में पर्याप्त पानी नहीं पहुंच पाता है। इस संबंध में जलदाय विभाग जेईएन को अवगत करवाने के बावजूद कोई समाधान नहीं करवाया गया। जबकि सभी घरों में पर्याप्त पेयजल सप्लाई पहुंचाने के लिए डिस्कॉम एईएन दिनेश यादव से पेयजल सप्लाई के दौरान बिजली सप्लाई बंद रखने की मांग की गई। एईएन ने कहा कि अगर जलदाय विभाग लिखित में शिकायत करें, तो ही बिजली सप्लाई बंद की जा सकती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें