शारदीय नवरात्र:नवरात्र में दो लाख श्रद्धालुओं ने किए सालासर बालाजी के दर्शन

सालासर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंदिर में दर्शन करने जाता श्रद्धालुओं का जत्था। - Dainik Bhaskar
मंदिर में दर्शन करने जाता श्रद्धालुओं का जत्था।
  • 17 से 20 अक्टूबर तक श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा सालासर बालाजी मंदिर, इसलिए आज व कल बड़ी संख्या में आएंगे भक्त

सालासर धाम में कोविड गाइडलाइन की पालना में इस बार भी शरद पूर्णिमा पर मेला नहीं भरेगा लेकिन प्रदेश सहित अन्य राज्यों से श्रद्धालुओं का आना जारी है। हालांकि अन्य वर्षों की तुलना में श्रद्धालुओं की संख्या कम है। नवरात्रा के दौरान पैदल, पेट के बल व वाहनों से श्रद्धालु आ रहे हैं। 17 से 20 अक्टूबर तक मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेगा।

इस कारण शुक्रवार व शनिवार को बड़ी संख्या में श्रद्धालु आएंगे। हनुमान सेवा समिति अध्यक्ष यशोदानन्दन पुजारी ने बताया कि प्रथम नवरात्रा से लेकर अंतिम नवरात्रा तक करीब दो लाख श्रद्धालुओं ने बालाजी के दर्शन किए। शुक्रवार व शनिवार दो दिनों में एक लाख से ज्यादा श्रद्धालु पहुंचने की उम्मीद है। राज्य सरकार की गाइडलाइन के चलते दर्शनों के लिए प्रवेश रात 8 बजे तक ही रहता है।

कोरोना काल से पहले नवरात्र से शरद पूर्णिमा तक 15 दिन में आते थे 8 लाख से ज्यादा श्रद्धालु

हनुमान सेवा समिति अध्यक्ष यशोदानन्दन पुजारी ने बताया कि कोरोना काल से पहले नवरात्र की शुरुआत से शरद पूर्णिमा तक 15 दिन में आठ लाख से ज्यादा श्रद्धालु आते थे। नवरात्रा के 9 दिनों में करीब चार लाख और दशमी से पूर्णिमा तक छह दिनों में चार लाख श्रद्धालु मंदिर में पहुंचते थे। राज्य सरकार की गाइड लाइन की पालना में इस बार भी शरद पूर्णिमा पर मेला नहीं भरेगा। 17 से 20 अक्टूबर तक मंदिर के पट बंद रहेंगे।

दर्शन के लिए मास्क है जरूरी, पीने के लिए तैयार करवाए : श्रद्धालुओं के लिए पानी के डेढ़ लाख पाउच तैयार करवाए हैं। रेलिंगों में प्रवेश करते समय श्रद्धालुओं को हाथ सेनेटाइज करवाए जा रहे हैं। बिना मास्क श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश नहीं दिया जाता।

खबरें और भी हैं...