पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Sardarshar
  • The Cleaning Worker Who Went On To Become A Bagus Customer Said That He Needed A Manjha To Sell In The Village, The Team Caught 80 Chinese Winches From The Shop.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चाइनीज मांझा : न बेचें, न खरीदें:बाेगस ग्राहक बनकर गया सफाईकर्मी बोला-गांवाें में बेचने के लिए मांझा चाहिए, टीम ने दुकान से चाइनीज मांझे की 80 चरखी पकड़ी

सरदारशहर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • टीम के रूप में कार्रवाई करने में बड़ी सफलता नहीं मिलने पर काम आया सफाईकर्मी का आइडिया

नगरपालिका की टीम की ओर से मंगलवार काे चाइनीज मांझे के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई। इस दाैरान ईओ शिवराज कृष्ण के नेतृत्व में पालिका कार्मिकाें ने सब्जी मंडी स्थित रघुनाथ मंदिर के पास एक जयकिशन माेदी की दुकान पर छापा मारकर करीब एक लाख रुपए का चाइनीज मांझा पकड़ा।

कार्रवाई के दाैरान दुकान से चाइनीज मांझे की 80 चरखी जब्त की गई। एक चरखी की कीमत 1300 से 1500 रुपए के बीच है। इसी पूरी कार्रवाई में दिलचस्प बात ये ये रही कि पालिका कार्मिक एक टीम के रूप में पहले बस स्टैंड स्थित एक दुकान पर चाइनीज मांझा पकड़ने गए।

इस दाैरान दुकानदार काे पहले से ही भनक लग गई और वहां केवल 6 चरखी ही मिली। इसके बाद टीम में शामिल अमित मीणा ने ईओ से कहा कि रघुनाथ मंडी में बड़ी मात्रा में चाइनीज मांझाें का स्टाॅक है। वहां पर टीम के रूप में जाने के बजाय उसे बाेगस ग्राहक बनाकर भेजा जाए ताे बड़ी कार्रवाई हाे सकती है। इसके बाद ईओ ने अमित काे बाेगस ग्राहक बनाकर सब्जी मंडी स्थित दुकान पर भेजा और कार्रवाई की।

दुकानदार पतंगों के पीछे से चरखी निकालकर दिखाने लगा, कार्मिक ने उसे मोल-भाव में उलझाए रखा, इतने में ईओ के साथ पहुंच गई टीम

सब्जी मंडी स्थित दुकान पर पहुंचे पालिका कर्मी ने दुकानदार से कहा कि चाइनीज मांझे काे लेकर आजकल सख्ती चल रही है। गांव में भी मांझा नहीं मिल रहा करीब पचास चरखे चाहिए मिल जाएंगे क्या। इस पर दुकानदार ने उसे पतंगाें के पीछे से चरखे निकालकर दिखाने लगा। इस दाैरान नगरपालिका कार्मिक उससे माेल भाव करने लगा। इसके बाद ईओ के नेतृत्व में अन्य कार्मिक दुकान पर पहुंच गए और पंतगाें के पीछे छिपाकर रखे गए करीब 80 चरखे जब्त कर लिए।

  • चाइनीज मांझे की राेकथाम के लिए अभियान चलाया जा रहा है। पहले की गई कार्रवाई टीम के रूप में की गई। लेकिन, इसमें बहुत कम चरखे मिले। इसके बाद टीम के सदस्य ने सुझाव दिया कि वाे बाेगस ग्राहक बनकर जाएगा और टीम पीछे से कार्रवाई करे। इस पर अमल किया अाैर चाइनीज मांझे के 80 चरखे जब्त किए गए हैं। - शिवराज कृष्ण, सरदारशहर ईओ

इधर, चाइनीज मांझे की चपेट में आए अधीक्षक डॉ. गौरी, स्कूटी की रफ्तार कम होने से नहीं आई चोट

जिला मुख्यालय पर मंगलवार दोपहर जयपुर रोड स्थित ओवर ब्रिज पर स्कूटी पर आ रहे राजकीय डीबी अस्पताल के अस्पताल अधीक्षक चाइनीज मांझे की चपेट में आ गए। स्कूटी की रफ्तार कम होने के कारण अस्पताल अधीक्षक को किसी प्रकार की चोट नहीं आई।

अस्पताल अधीक्षक डॉ. एफएच गौरी ने बताया कि वे जयपुर से आई टीम को लेकर स्कूटी पर आ रहे थे। ओवरब्रिज के ऊपर अचानक चाइनीज मांझा स्कूटी पर आकर गिरा। रफ्तार कम होने के चलते उन्होंने तुरंत स्कूटी रोकी और मांझे से खुद को बचाया। उन्होंने बताया कि यदि स्कूटी की रफ्तार तेज होती, तो बड़ा हादसा भी हो सकता था।
भास्कर अलर्ट : दो दिन पतंगबाजी का जोर दुपहिया वाहन चलाने वाले ये सावधानी रखें

  • 14 जनवरी को मकर संक्रांति के कारण दो दिन पतंगबाजी का जोर रहेगा। इन दो दिनों में दुपहिया वाहन चलाने वाले कुछ सावधानियां रखे, तो चाइनीज मांझे से होने वाले हादसों से बच सकते हैं।
  • दुपहिया वाहन पर ताड़ी लगा लें- बाइक, स्कूटी या दुपहिया वाहन पर दो फीट की ताड़ी लगवा ले या बांध ले। इससे डोर गर्दन तक नहीं पहुंच पाएगी।
  • फूल साइज हेलमेट पहनें : दुपहिया वाहन चालक इन दो दिन फूल साइज का हेलमेट पहन कर वाहन चलाए। इसके साथ ही गले को मफलर या कपड़े से कवर कर ले।
  • बच्चों को आगे ना बैठाएं : इन दो दिन दुपहिया वाहन पर बच्चों को आगे नहीं बैठाएं। यदि बच्चों को पीछे भी बैठाए, तो उनका मुंह व गला कपड़े से ढककर रखें।
  • रफ्तार धीमी रखें : दुपहिया वाहन चालक इन दो दिन रफ्तार का भी ध्यान रखें। कम रफ्तार में दुपहिया वाहन चलाएंगे, तो चाइनीज मांझा उलझने की स्थिति में संभलने का मौका मिल जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser