पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिद्धमुख का मामला:बिजली व पानी की समस्या लेकर पहुंचे, तहसीलदार के अाॅफिस में चारपाई मिली तो धरने पर बैठे पूर्व विधायक

सिद्धमुखएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूर्व विधायक बोले-तहसीलदार के कमरे में चारपाई पर अाराम फरमाते हैं कर्मचारी

तहसील क्षेत्र की बिजली-पानी की समस्या काे लेकर तहसील कार्यालय में पहुंचे पूर्व विधायक मनाेज न्यांगली काे तहसीलदार के कमरे में चारपाई बिछी मिली और तहसीलदार की कुर्सी खाली मिली। तहसील कार्यालय की ऐसी व्यवस्थाएं देखकर पूर्व विधायक व उनके साथ अाए किसान चारपाई के पास ही धरने पर बैठ गए और तहसील के कर्मचारियाें काे खरी-खाेटी सुनाई। घटनाक्रम की जानकारी मिलने के बाद एसडीएम पंकज गढ़वाल तहसील कार्यालय पहुंचे और विधायक से वार्ता कर धरने काे खत्म कराया। इससे पहले राउमावि के बाहर किसान एकत्रित हुए अाैर पानी-बिजली की समस्या के समाधान की मांग काे लेकर नारेबाजी करते हुए तहसील कार्यालय पहुंचे। विधायक ने कहा कि तहसीलदार की कुर्सी सात दिनाें से खाली पड़ी है, कर्मचारी चारपाई पर अाराम फरमाते हैं। क्षेत्र में बिजली-पानी की भयंकर समस्या है।

तीन दर्जन गांवाें में पानी की एक बूंद तक नहीं जा रही। माैके पर पहुंचे एसडीएम ने न्यांगली से वार्ता की अाैर सात दिनाें में बिजली-पानी की समस्या के समाधान का अाश्वासन दिया। इसके बाद न्यांगली ने धरना समाप्त किया। तहसीलदार के कमरे में मिली चारपाई काे लेकर एसडीएम पंकज गढ़वाल ने कहा कि 30 जून काे सिद्धमुख तहसीलदार सेवानिवृत्त हाे गए, राजगढ़ तहसीलदार काे सिद्धमुख का चार्ज दिया है।

रात में चाैकीदार ने खाली कमरा देखकर चारपाई बिछा दी थी, जिसे अब हटवा दिया जाएगा। इस दाैरान रामसराताल सरपंच पवन शर्मा, तांबाखेड़ी सरपंच बलबीर मेघवाल, सिद्धमुख सरपंच महावीर जांगिड़, एडवोकेट हरदीपसिंह, इंद्राज मांजू, पूर्व सरपंच सुरेश पूनिया, हनुमान ठेकेदार, पूर्णमल चुबकिया, भूपसिंह भीमसाणा, बनवारी प्रजापत, प्रधान ढाका, केडी चारण, पट्टू राजपुरोहित, भूपसिंह, राजू, सतीश, कानसिंह, महिपाल, मुकेश मेघवाल अादि माैजूद रहे।

खबरें और भी हैं...