चेतावनी:मुख्य आरोपी के गिरफ्तार नहीं होने पर 11 को बाजार बंद कर करेंगे थाने का घेराव

सिंघाना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिंघाना. बैठक में चर्चा करते हुए सर्व समाज व व्यापार मंडल के लोग। - Dainik Bhaskar
सिंघाना. बैठक में चर्चा करते हुए सर्व समाज व व्यापार मंडल के लोग।
  • इलेक्ट्रॉनिक्स व्यापारी को धमकी देने और शोरूम के बाहर फायरिंग करने का मामला

नारनौल सर्किल पर स्थित विपुल इलेक्ट्रॉनिक्स शोरूम के मालिक मनीष चौधरी से 26 अगस्त को 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगने और नहीं देने पर शोरूम के बाहर फायरिंग करने के मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर रविवार को सर्व समाज व व्यापार मंडल की मुख्य बाजार में बैठक हुई।

बैठक में मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस काे पांच दिन का समय देते हुए चेताया गया कि यदि 10 सितंबर तक मुख्य आरोपी लोकेश गुर्जर को गिरफ्तार नहीं किया गया तो 11 सितंबर को को बाजार बंद कर थाने का घेराव किया जाएगा। इसके लिए सर्व सम्मति से 51 लोगों की सर्व समाज संघर्ष समिति सिंघाना का गठन किया गया।

इससे पहले सर्व समाज व व्यापार मंडल के लोगों ने आरोपी को गिरफ्तार नहीं करने पर सोमवार को बाजार बंद कर प्रदर्शन करने का निर्णय लिया था। बैठक में सिंघाना थानाधिकारी भजनाराम ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस का सहयोग करने की अपील करते हुए कहा कि आरोपी को 10 तारीख तक गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इसके बाद पुलिस को 5 दिन का समय देने का निर्णय लिया।

थानाधिकारी भजनाराम ने बताया कि मुख्य आरोपी लोकेश गुर्जर की धरपकड़ के लिए पुलिस की टीमें संदिग्ध ठिकानों पर दबिश दे रही है। बैठक में बुहाना प्रधान हरिकृष्ण यादव, सिंघाना सरपंच विजय कुमार शर्मा, मनफूल डैला माकड़ो, पूर्व सरपंच ओमप्रकाश गुप्ता, कैलाश पांडे, ब्रह्मप्रकाश शास्त्री महराना, पूर्व उपसरपंच नरेश चौधरी, पवन अग्रवाल, रवि मीणा, अंकित चौधरी, राधेश्याम मीणा, बबलू चौधरी, पुरषोतम स्वामी, मनोज गुप्ता, गिरवरसिंह, विनोद कुमार, मोनू, बजरंग पूनियां, दिनेश झालान, राजेश मीणा, रामधारी शर्मा, मातादीन बड़बर, सत्यनारायण चौधरी, ठेकेदार महावीर यादव, दीनदयाल जैदिया, शंकर वाल्मीकि, राजेश जैदिया, धर्मपाल सैनी, प्यारेलाल मीणा, छोटू सैनी मौजूद रहे।

आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए पांच दिन का दिया समय
व्यापारियों ने कहा कि 11 दिन बीत चुके हैं, लेकिन अभी तक मुख्य आरोपी को पुलिस गिरफ्तार नही किया गया है। पुलिस को पहले भी आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए समय दिया गया था और वापस पांच दिन का समय दिया जा रहा है। इस प्रकार की वारदातों को सहन नहीं किया जाएगा। समय रहते पुलिस बदमाश को गिरफ्तार कर ले नहीं तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...