पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दोस्तों में धाक जमाने के लिए खरीदे हथियार:दसवीं के छात्र के पास मिला पिस्टल, पुलिस सेे बाेला-पांच साल में हिस्ट्रीशीटर पपला गुर्जर से बड़ा बनना है

सिंघाना10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हथियारों के साथ पुलिस की गिरफ्त में आरोपी। - Dainik Bhaskar
हथियारों के साथ पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।
  • पुलिस ने अवैध हथियारों के साथ चार दोस्तों को पकड़ा, चार में से तीन स्कूली छात्र व एक कॉलेज छात्र

सिंघाना पुलिस ने चार स्कूली दोस्तों को अलग-अलग स्थानाें से दबोचा है। चारों के पास खुद के खरीदे हुए हथियार मिले हैं। चाैंकाने वाली बात यह है कि इनमें से तीन तो अभी कक्षा 10, 11 व 12वीं में ही पढ़ रहे हैं और एक स्नातक द्वितीय वर्ष में पढ़ रहा है।

दोस्तों के बीच हथियार दिखाकर धाक जमाने के लिए इन्होंने इंदौर और सोनीपत से अवैध रूप से हथियार खरीदे। पुलिस ने चार में से दो दोस्तों को गिरफ्तार किया है, जबकि दो नाबालिगों को निरूद्ध किया है। आराेपियाें के पास से एक पिस्तौल, तीन देशी कट्‌टे, 2 जिंदा व 3 खाली कारतूस बरामद किए गए हैं।गिरफ्तार आराेपी राजेश यादव पुत्र उदयसिंह डूमाेली खुर्द एवं विनित कुमार पुत्र रामसिंह पालोता निवासी हैं।

पुलिस काे राजेश के पास से एक देशी कट्‌टा, 1 जिंदा व 1 खाली कारतूस जबकि विनित के पास से एक देशी कट्टा मिला है। इसके अलावा दाे नाबालिग हैं, जाे कक्षा 10 व 11 में पढ़ रहे हैं। बुहाना डीएसपी ज्ञानसिंह चौधरी ने बताया कि 26 अगस्त को नारनौल सर्किल स्थित विपुल इलेक्ट्रोनिक्स शोरूम के मालिक से 20 लाख रूपए की रंगदारी मांगने और नहीं देने पर शोरूम के बाहर फायरिंग करने के मामले में पुलिस अवैध हथियार रखने वालाें पर नजर रखे हुई थी। सिपाही अजय कुमार भालोठिया व संजय डूडी को मुखबिर से सूचना मिली कि डूमाेली खुर्द, कुठानिया व पालोता गांव के नाबालिगाें के पास हथियार हैं।

सूचना पर थानाधिकारी भजनाराम, एएसआई शीशराम, एएसआई धूड़सिंह व हैडकांस्टेबल रणधीर के नेतृत्व में चार टीमों ने अलग-अलग जगहाें पर दबिश देकर चारों को दबाेच लिया। थानाधिकारी ने बताया कि कार्रवाई में अहम भूमिका सिपाही अजय कुमार भालोठिया व संजय डूडी की अहम भूमिका रही। इनके कारण ही चारों पकड़े गए।

कुठानिया का नाबालिग मारपीट के मामलों में दो बार पहले भी हो चुका निरुद्ध, इंदौर से खरीदी थी पिस्टल
थानाधिकारी भजनाराम ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जा रही है कि आरोपियों ने हथियार कब खरीदा और किस काम में लेना चाहते थे। अवैध हथियार सप्लाई में इनके साथ कौन-कौन शामिल हैं और क्षेत्र में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना तो नहीं बना रहे थे।

सिंघाना के व्यापारी मनीष चौधरी को फोन पर 20 लाख रुपए की रंगदारी व शोरूम के बाहर फायरिंग करने का आरोपी लोकेश गुर्जर भी डूमाेली खुर्द का ही है। उसी के गांव के एक नाबालिग को निरुद्ध किया गया है। चार दोस्तों में कुठानिया निवासी नाबालिग दो बार पहले भी मारपीट में निरुद्ध हो चुका है और वह पांच सालों में वह पपला गुर्जर को फेल कर उससे बड़ा शातिर बनना चाहता है। करीब 25 हजार रुपए की कीमत की सबसे मंहगी पिस्तौल भी कुठानिया के नाबालिग के पास से ही मिली।

तीन साल पहले चिड़ावा में साथ पढ़ाई के दाैरान हुई थी दाेस्ती
पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि कुठानिया के निरुद्ध बाल अपचारी व पालोता निवासी विनित 2018 में चिड़ावा में एक साथ निजी स्कूल में पढ़ते थे। उसी समय उनकी दोस्ती हो गई। दोनों का घर तक आना जाना था। विनित की फेसबुक के जरिए मध्यप्रदेश के धरोदा के युवक से चेट के जरिए जान पहचान हुई। उसके बाद विनित ने उससे पिस्तौल खरीदने की पेशकश की तो धरोदा निवासी युवक ने रुपए लेकर मध्यप्रदेश आने की बात कही। विनित करीब 6 महीने पहले बस व ट्रेन से धरोदा पहुंचकर फेसबुक दोस्त से 20 हजार रूपए में एक देशी कट्‌टा खरीद कर लाया था।

तीसरे आरोपी डूमाेली खुर्द निवासी राजेश यादव व उसके गांव के ही निरुद्ध बाल अपचारी के साथ कुठानिया के बाल अपचारी की फोन पर बातचीत होती रहती थी। हरियाणा के धानोदा कारोली मारोली निवासी सतपाल गुर्जर ने 2018-19 में डूमाेली खुर्द के निजी स्कूल के हॉस्टल में रहकर पढ़ाई की थी। उस दौरान उसकी स्कूल में पढ़ने वाले राजेश यादव व बाल अपचारी की दोस्ती हो गई थी। कुछ दिन पहले राजेश यादव की सतपाल से व्हाटसएप पर चैटिंग हुई। सतपाल गुर्जर ने ही राजेश यादव को देशी कट्‌टा उपलब्ध करवाया।

फेसबुक से जुड़ा हथियार तस्करों से
पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि कुठानिया का 15 वर्षीय नाबालिग ही मास्टर माइंड है। उसने फेसबुक के जरिए ही सोनीपत और मध्यप्रदेश में हथियार तस्करों से संपर्क साधा। इंदौर जाकर हथियार लेकर आया। इनके पास ये हथियार करीब छह महीने से बताए जा रहे हैं। इसके अलावा दो जनों ने पांच- पांच हजार रुपए में सोनीपत व इंदौर से देशी कट्टे खरीदकर लाने की जानकारी पुलिस को दी है। एक बालक अभी पुलिस को बता रहा है उसे देशी कट्टा खेत में मिला है।

सबसे छोटा ही सबसे खोटा
बुहाना डीएसपी ज्ञानसिंह ने बताया कि चाराें में से एक की उम्र 15 साल है, जो कक्षा 10 में पढ़ रहा है। 17 वर्षीय नाबालिग कक्षा 11 में पढ़ता है। चार दोस्तों में जो सबसे छोटा है। वो ही सबसे खोटा है। कुठानिया का यह 15 वर्षीय बालक दो बार पहले भी निरूद्ध हो चुका है। एक बार मारपीट में और एक बार होटल में मारपीट मामले में उसे निरुद्ध किया जा चुका है।

पुलिस ने पूछताछ कि तो ये बोला कि पांच सालों में मैं पपला को फेल कर दूंगा। सबसे पहले पुलिस ने भी इस बच्चे को विश्वास में लिया। जिसके मोबाइल से हथियारों की फोटो मिली और फिर कड़ी से कड़ी जोड़कर चारों को दबोचा गया। गिरफ्तार पालोता निवासी विपिन जाट सैकंड इयर का छात्र है। तो वहीं डूमोली खुर्द निवासी राजेश अहीर 12वीं में पढ़ता है।

खबरें और भी हैं...