डोटासरा ने कहा:घरड़ाना खुर्द में बनाया जाएगा शहीद के नाम पर खेल स्टेडियम, परिवार को देंगे एक करोड़ रुपए

सिंघानाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिंघाना. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा व राज्यमंत्री बृजेंद्र ओला शहीद की मां को नमन करते हुए। - Dainik Bhaskar
सिंघाना. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा व राज्यमंत्री बृजेंद्र ओला शहीद की मां को नमन करते हुए।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद डोटासरा, परिवहन मंत्री बृजेन्द्र ओला, नवलगढ़ विधायक डाॅ. राजकुमार शर्मा मंगलवार शाम को हेलिकॉप्टर हादसे में शहीद हुए घरड़ाना खुर्द के सपूत स्क्वॉड्रन लीडर कुलदीप सिंह राव को श्रद्धांजलि देने व परिजनों को सांत्वना देने उनके घर पहुंचे। इस दौरान डोटासरा ने मुख्यमंत्री की ओर से शहीद परिजनों को एक करोड़ रुपए का पैकेज देने की घोषणा भी की।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंदसिंह डोटासरा ने शहीद के पिता रणधीर सिंह व ग्रामीणों के साथ चर्चा की। इस दौरान डोटासरा ने कहा शहीद कुलदीप ने पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया है। उन्होंने शहीद की मांग के पैर छूकर कहा की ऐसे सपूत को जन्म देकर आप धन्य हैं। इस दौरान पूर्व प्रधान हरपालसिंह राव, संदीप राव सहित ग्रामीणों ने प्रदेश अध्यक्ष से गांव में शहीद के नाम से खेल स्टेडियम बनवाने की मांग की। प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा व परिवहन मंत्री ओला ने ग्रामीणों को कहा कि आगामी बजट में शहीद के नाम से खेल मैदान बनवा दिया जाएगा। परिवहन मंत्री बृजेन्द्र ओला ने कहा कि राज्य सरकार शहीद के परिवार के साथ हमेशा सुख दुख में खड़े मिलेंगे।

प्रदेश अध्यक्ष डोटासरा व राज्य मंत्री ओला ने शहीद की मां के पैर छुए

मुख्यमंत्री के सलाहकार और नवलगढ़ विधायक डॉ. राजकुमार शर्मा व नवलगढ़ प्रधान दिनेश सुंडा भी शहीद के घर पहुंचे। नवलगढ़ विधायक राजकुमार शर्मा ने कहा कि कुलदीप राव ने मातृ भूमि की रक्षा व सेवा करते हुए अपने प्राण न्यौछावर कर प्रदेश व देश का नाम रोशन किया है। इस दौरान चिड़ावा चैयरमेन सुमित्रा सैनी, अमित ओला ने भी श्रद्धांजलि दी। पूर्व प्रधान हरपाल सिंह राव, जागरूकता सेवा समिति जिला संयोजक संदीप राव, शहीद के चचेरे भाई मनोज, राजेश, महेन्द्र सिंह झाझड़िया पूर्व जिला कांग्रेस अध्यक्ष, निहाल सिंह पूर्व प्रधान सूरजगढ़, पूर्व सरपंच महेन्द्र सिंह अरड़ावता, विजयसिंह थाकन, धर्मेंद्र थाकन, सुनील जानू भामरवासी, सुमेरसिंह पीटीआई, मोहरसिंह बुडानिया, रोहिताश रणवां, शिक्षाविद बिशनाराम झाझड़िया, मनफूल डैला माकड़ो, चिड़ावा सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल जयपाल पूनिया, सूबेदार सुभाष भास्कर, महेन्द्र सिंह राव मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...