उदयपुरवाटी / बायोमैट्रिक थंब नहीं मिलने से किसान को वापस ले जाने पड़े पचास कट्टे चने

X

  • सरकारी खरीद में ओटीपी का ऑप्शन बंद होने से किसान हुआ परेशान

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 07:37 AM IST

उदयपुरवाटी. सरकारी खरीद केंद्र पर किसान का अंगूठा लगा कर बायोमैट्रिक सत्यापन नहीं होने से उसे अपनी उपज वापस लेकर जाना पड़ा। किसान का किराया व तुलाई भी लग गई, पूरे दिन परेशान रहा और शाम को अपनी उपज लेकर वापस जाना पड़ा। इस प्रकार के दो मामले पूर्व में भी  सामने आ चुके हैं।
जानकारी के अनुसार पोसाना के किसान रामकुमार ने अपने खेत में उपजे चने बेचने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया था। रजिस्ट्रेशन हो गया, उसे जो तारीख मिली, उस पर गुरुवार को वह चने लेकर उदयपुरवाटी स्थित क्रय-विक्रय सहकारी समिति पहुंचा। वहां उसके कागजात देख कर चने तुलवा लिए और बारदाना बदल लिया। खरीद को ऑनलाइन करते समय अंगूठा लगा कर बॉयोमैट्रिक सत्यापन करना होता है। किसान के अंगूठे का बॉयोमैट्रिक सत्यापन नहीं हुआ तथा ओटीपी का विकल्प नहीं था। किसान के चने वापस उसी के कट्टों में डाल कर लौटा दिए तथा तुलाई व पल्लेदारी के 400 रुपए वसूल कर लिए। किसान को उपज लेकर वापस जाना पड़ा। वहां लोगों ने बताया कि गुढ़ागौड़जी में 6 मई व 9 मई को दो किसानों के साथ ऐसा हो चुका है। वे किसान अपनी उपज वापस नहीं लेकर गए लेकिन उनकी खरीद अभी तक भी ऑन लाइन नहीं हुई है। खरीद ऑनलाइन नहीं होने से किसान की उपज का पूरा मूल्य डूबने की नौबत आ सकती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना