पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उदयपुरवाटी थाने का मामला:पीड़ित को ही बनाया मुर्गा, मानवाधिकार आयोग को शिकायत

उदयपुरवाटी/झुंझुनूंएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कानाराम। - Dainik Bhaskar
कानाराम।

क्षेत्र के गिरावड़ी पोस्ट ऑफिस में कार्यरत शाखा डाकपाल के साथ मारपीट के मामले में बयान देने गए पीड़ित व गवाह को उदयपुरवाटी पुलिस थाने में मुर्गा बनाकर मारपीट करने की शिकायत मानवाधिकार आयोग को भेजी गई है। जानकारी के अनुसार गिरावड़ी शाखा डाकपाल कानाराम ने 14 जून को अपने साथ मारपीट करने व रुपए छीनकर ले जाने का मामला दर्ज करवाया था।

पुलिस ने धारा 225/21 दर्ज कर दो आरोपियों को धारा 151 के तहत गिरफ्तार भी कर लिया था। परिवादी कानाराम ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष को पत्र भेजकर बताया है कि जांच अधिकारी एसआई हरिकृष्ण तंवर ने 15 जून को दोपहर 2 बजे फोन करके अगले दिन सुबह 10 बजे गवाह को साथ लेकर थाने बुलाया था। वह 16 जून को सुबह 10 बजे गवाह दिनेश कुमार वर्मा को लेकर थाने पहुंच गया।

अनुसंधान अधिकारी उनको मैस के बराबर वाले कमरे में ले गए। वहां कमरे को बंद कर दोनों को नीचे बैठा दिया। जांच अधिकारी खुद डंडा लेकर पास खड़ा हो गया व 10 खाली कागज देकर कहा इन पर हस्ताक्षर कर दो। परिवादी व गवाह ने खाली कागजों पर हस्ताक्षर करने से मना कर दिया तो जांच अधिकारी ने उनको मुर्गा बना दिया व मारपीट करने लगे।

जांच अधिकारी ने कहा कि जब तक हस्ताक्षर नहीं करते हो तब तक मुर्गा बने रहो। उन्होंने हवालात में बंद करने की धमकी भी दी। दोनों ने डरकर खाली कागजों पर हस्ताक्षर कर दिए तो जांच अधिकारी ने धमकी लगाकर कहा हस्ताक्षर हो गए अब नाच नचाउंगा। जांच अधिकारी ने कहा कि थाने के आसपास भी नजर आए तो जेल भेज दूंगा। दोषी अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

शाखा डाकपाल ने मामला दर्ज करवाया था। इस मामले में दो आरोपियों को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार भी किया था। परिवादी के साथ मारपीट करने व मुर्गा बनाने की शिकायत अभी मेरे पास नहीं आई है। अगर ऐसा है तो मामले की जांच करवाएंगे व कार्रवाई करेंगे।-भगवानसहाय मीणा, सीआई

खबरें और भी हैं...