घुटनों के बल बैठकर पीएम मोदी का राजस्थान को नमन:10 बज गए तो लाउडस्पीकर पर नहीं बोले, कहा- ये प्यार ब्याज सहित लौटाऊंगा

आबूरोड2 महीने पहले
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के अंबाजी में दर्शन के बाद कार से आबूरोड आए। करीब 21 किमी के इस रास्ते में जगह-जगह लोगों की भारी भीड़ मौजूद रही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार रात आबूरोड आए। उन्होंने कहा कि मैं इस प्यार को सूद समेत वापस लौटाऊंगा। रात के दस बजने के कारण उन्होंने लाउड स्पीकर पर लोगों को संबोधित नहीं किया। उन्होंने जनसभा में आई जनता को घुटनों के बल बैठकर तीन बार नमन किया।

मोदी जैसे ही पहुंचे, पूरा पंडाल मोदी-मोदी के नारों से गूंज उठा। मंच पर आने के बाद प्रधानमंत्री ने माइक पर बोलने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि रात के दस बज चुके हैं और नियमानुसार माइक का उपयोग नहीं किया जा सकता। मेरी आत्मा कहती है कि मुझे नियम-कानून का पालन करना चाहिए।

मोदी मंच से उतरकर जनता के बीच चले गए और लोगों का अभिवादन किया।
मोदी मंच से उतरकर जनता के बीच चले गए और लोगों का अभिवादन किया।

इसके बाद उन्होंने बिना माइक के वहां मौजूद भीड़ से कहा कि मेरे लिए आप लोग यहां इतनी देर से बैठे रहे और मैं देर से आया, इसके लिए क्षमा मांगता हूं, लेकिन मैं वादा करता हूं कि जल्द ही वापस आऊंगा। इसके बाद प्रधानमंत्री ने तीन बार घुटनों के बल बैठकर मंच से जनता काे प्रणाम किया। फिर मंच से उतरकर जनता के बीच पहुंचे। करीब 10.25 पर वे हेलिकॉप्टर से वापस रवाना हो गए।

वे गुजरात के अंबाजी में दर्शन के बाद कार से आबूरोड आए। करीब 21 किमी के इस रास्ते में जगह-जगह लोगों की भारी भीड़ मौजूद रही। सड़क के दोनों ओर खड़े लोगों ने उनका अभिवादन किया। यह पूरा रास्ता आदिवासी इलाका है। ऐसे में ज्यादातर लोग आदिवासी समुदाय के लोग थे।

गुजरात के अंबाजी में नरेंद्र मोदी का स्वागत करने के लिए मौजूद जनसमुदाय।
गुजरात के अंबाजी में नरेंद्र मोदी का स्वागत करने के लिए मौजूद जनसमुदाय।

आबूरोड शहर में पीएम का काफिला पहुंचने के बाद लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। इस पूरे रास्ते को रोशनी से सजाया गया था। सड़क के दोनों ओर खड़े लोग जयकारे लगाते रहे। कई जगहों पर भाजपा की ओर से केंद्र सरकार से जुड़ी योजनाओं की झांकी भी सजाई गई थी।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए
प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के लिए आबूरोड में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। यहां एसपीजी के अलावा प्रदेश पुलिस के 2500 से अधिक जवान चप्पे-चप्पे पर तैनात रहे। मानपुर हवाई पट्‌टी पर बनाए गए सभा स्थल पर भी लोगों को भारी जांच के बाद ही प्रवेश दिया गया। पूरे शहर में ट्रैफिक डायवर्ट किया गया और जगह-जगह बैरिकेड्स लगाए गए थे।

अंबाजी से आबूरोड का पूरा रास्ता आदिवासी इलाका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन गुजरात के दौरे पर थे। शुक्रवार को उनके दौरे का दूसरा दिन रहा।
अंबाजी से आबूरोड का पूरा रास्ता आदिवासी इलाका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन गुजरात के दौरे पर थे। शुक्रवार को उनके दौरे का दूसरा दिन रहा।

आबूरोड से तारंगा हिल तक रेलवे ट्रैक का शिलान्यास
गुरुवार से प्रधानमंत्री मोदी दो दिन के गुजरात दौरे पर थे। दौरे के दूसरे दिन वे गुजरात के प्रमुख शक्ति पीठ अंबाजी धाम पहुंचे। दर्शन के बाद वे पहाड़ी पर बने गब्बर तीर्थ पहुंचे और महाआरती में शामिल हुए। प्रधानमंत्री ने यहां कई विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया। जिसमें आबूरोड से गुजरात के तारंगा हिल तक नया रेलवे ट्रैक भी शामिल है। जो वाया अंबाजी होकर गुजरेगा।

मोदी के आने से पहले केंद्रीय जल शक्ति मंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में गहलोत सरकार ने विकास ठप कर दिया है। प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि देश में 2014 में राजनीतिक क्रांति हुई, जिसने कांग्रेस का नामोनिशान मिटा दिया। मंच पर नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्रसिंह राठौड़, पाली सांसद पीपी चौधरी, जालोर सिरोही सांसद देवजी पटेल मौजूद थे।

मानपुर हवाई पट्टी के पास ही बनाए गए मंच से सभा को संबोधित करते भाजपा नेता।
मानपुर हवाई पट्टी के पास ही बनाए गए मंच से सभा को संबोधित करते भाजपा नेता।
प्रधानमंत्री के मंच पर पहुंचने के बाद लोगों ने मोबाइल की टॉर्च जलाकर पीएम का अभिवादन किया
प्रधानमंत्री के मंच पर पहुंचने के बाद लोगों ने मोबाइल की टॉर्च जलाकर पीएम का अभिवादन किया

मंच पर पूर्व सीएम वसुंधरा राजे, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह, केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी, प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, गुलाबचंद कटारिया, राजेंद्र राठौड़, बीएल संतोष समेत पार्टी के कई नेता मौजूद रहे।

रिपोर्ट: अनिल रावल, आबूरोड़

PM मोदी के गुजरात दौरे से जुड़ी ये खबर भी पढ़ें...

गांधीनगर जाते वक्त एंबुलेंस को रास्ता देने रुका PM का काफिला

अहमदाबाद से गांधीनगर के बीच हाईवे पर एंबुलेंस को देखकर रुका हुआ प्रधानमंत्री मोदी का काफिला।
अहमदाबाद से गांधीनगर के बीच हाईवे पर एंबुलेंस को देखकर रुका हुआ प्रधानमंत्री मोदी का काफिला।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गुजरात दौरे के दूसरे दिन एक एंबुलेंस को रास्ता देने के लिए उनका काफिला हाईवे पर रुक गया। प्रधानमंत्री नई वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के लिए अहमदाबाद से गांधीनगर जा रहे थे। उसी दौरान हाईवे पर एंबुलेंस देखकर PM का काफिला रोका गया। पढ़ें पूरी खबर...