पति ने की दूसरी शादी, पत्नी ने दर्ज कराया मामला:पंचों ने पत्नी के परिजनों को किया समाज से बेदखल

सिरोही2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पति के दूसरी शादी करने पर महिला ने केस दर्ज कराया तो पंचों ने महिला के परिजनों को समाज से बहिष्कृत कर दिया। इस मामले में एसपी के दखल के बाद मामला दर्ज हुआ है। - Dainik Bhaskar
पति के दूसरी शादी करने पर महिला ने केस दर्ज कराया तो पंचों ने महिला के परिजनों को समाज से बहिष्कृत कर दिया। इस मामले में एसपी के दखल के बाद मामला दर्ज हुआ है।

शिवगंज कस्बे के गणेश नगर निवासी एक महिला ने पति पर दूसरी शादी का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया है। इस पर आक्रोशित समाज के पंचों ने केस वापस नहीं लेने पर महिला तथा उसके माता-पिता सहित परिजनों को समाज से बहिष्कृत कर दिया। इस मामले में पीड़िता के पिता की शिकायत पर शिवगंज पुलिस ने एसपी के निर्देश पर समाज के 14 पंचों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज किया है।

गणेश नगर शिवगंज निवासी तारा राम पुत्र लालाराम गाडोलिया लोहार ने एसपी को दी रिपोर्ट में बताया कि उसकी बेटी की शादी रेवा राम पुत्र कालूराम गाडलिया निवासी दुजाना तहसील सुमेरपुर, पाली के साथ की थी। शादी के बाद उसकी बेटी के साथ मारपीट होने से दहेज का मुकदमा दर्ज कराया था, जो अभी तक चल रहा है। इसके चलते उसकी बेटी कमला आज भी उसके घर पर ही है। इस मुकदमे को लेकर समाज के गाडलिया लोहार समाज के पंच दयाराम, बाबूराम, होकड राम, नरसाराम, नारायण लाल तेजाराम टीला राम रूपा राम, हेमाराम, प्रकाश राम, हिमताराम, मनसियाराम और धनाराम ने इकट्ठे होकर उसकी पुत्री को तलाक दिए बिना रेवाराम की दूसरी शादी भूति आहोर निवासी पुनाराम पुत्र देवाराम गडरिया की पुत्री ढली से करवा दी।

इस बारे में पंचों से पूछने पर चंपालाल, रमेश, नारायण, विजाराम, दुजाना इन सभी लोगों ने इकट्ठा होकर उन्हें शिवगंज बुलाया तथा केस वापस लेने के लिए दबाव डाला। केस वापस नहीं लेने पर पंचों ने 2 लाख रुपए मांगे तथा पंचायती को पैसे देने पर जब मना कर दिया तो सभी ने ओलमा दिया तथा पंचों की बात नहीं मानने और 2 लाख रुपए नहीं देने पर उसके परिवार को समाज से बहिष्कृत कर दिया तथा फरमान जारी करते हुए कहा कि उनके साथ कोई बात व्यवहार नहीं करेगा। हुक्का पानी बंद रहेगा। उनके घर पर कोई नहीं जाएगा नहीं बुलाएगा समाज से बहिष्कृत किया जाता है। तारा राम ने एसपी को दी रिपोर्ट में बताया कि उसने इस मामले में शिवगंज थाने को रिपोर्ट दी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।