अधिकारियों ने झांसा दे किया गुमराह:सिंचाई पानी के लिए भाजपा का घड़साना में धरना शुरू, अनूपगढ़ में हुआ समाप्त

घड़साना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोप: अधिकारियों ने बीबीएमबी से वार्ता करने का झांसा दे गुमराह किया

सिंचाई विभाग द्वारा गत दिनों संयुक्त किसान मोर्चा के साथ हुए समझौते की पालना नहीं करने के विरोध में गुरुवार को अनूपगढ़ विधायक संतोष बावरी के नेतृत्व में भाजपा ने उपखंड कार्यालय के समक्ष अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया है। धरना स्थल पर मौजूद भाजपा पदाधिकारियों ने बताया कि गत दिनों सिंचाई विभाग के अधिकारियों तथा संयुक्त किसान मोर्चा के शिष्टमंडल के साथ हुए समझौते में 10 अक्टूबर को अनूपगढ़ शाखा, पूगल ब्रांच व रोजड़ी वितरिका को एक साथ चलाने का वायदा किया था। लेकिन चार दिन बाद भी अधिकारियों ने बीबीएमबी से वार्ता करने का झांसा देकर गुमराह किया है। हालांकि भाजपा ने किसानों के साथ हुए इस समझौते को पहले ही खारिज कर दिया था।

सिंचाई विभाग के इस वादाखिलाफी के खिलाफ अब भाजपा ने किसानों की इस समस्या को लेकर अनूपगढ़ शाखा तथा रोजड़ी वितरिका संघर्ष समिति का गठन कर सिंचाई समस्याओं के समाधान कराने की मांग पर आंदोलन शुरू किया है। आंदोलन का नेतृत्व विधायक संतोष बावरी करेगी। भाजपा के किशन दुग्गल ने बताया कि अनूपगढ़ शाखा व आरजेडी नहर के किसानाें ने तीन में से एक ग्रुप के हिसाब से फसल पकाव तक पर्याप्त मात्रा में पानी देने की मांग की है।

जब कि सिंचाई विभाग ने अभी तक तीन में एक ग्रुप में पानी देने के लिए रेगुलेशन भी घोषित नहीं किया है। इस मौके पर पूर्व जिला उपप्रमुख नछत्रसिंह रमाणा, ओम यादव, इंद्राज मेघवाल, किशन दुग्गल, कुलदीप सिंह, अनूप सिंह सिंह, दर्शन सिंह, हरीराम बावरी व पवन भांभू सहित अनेक पदाधिकारियों ने भाग लिया।

खबरें और भी हैं...