पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौत से हारी जिंदगी:48 घंटे बाद पीड़िता ने तोड़ा दम, प्रभारी मंत्री बीडी कल्ला मृतका के घर पहुंचे, भाजपा-कांग्रेस में हुई तकरार

हनुमानगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौत की सूचना के बाद बेटी ने गेट पर लिखा ‘आई लव यू मां’ - Dainik Bhaskar
मौत की सूचना के बाद बेटी ने गेट पर लिखा ‘आई लव यू मां’
  • गोलूवाला में महिला को जलाने का मामला - देर रात पीड़िता का शव जिला अस्पताल पहुंचा, रात में एडीजी, आईजी ने डाला डेरा

अपराधियों में कानून का खत्म होता खौफ, संभावित खतरों से सहमे लोग और न्याय पाने के लिए भटकते पीड़ित परिवार के परिजन। यह हालात जिले के गोलूवाला में चरमराई हुई कानून व्यवस्था को बयां करते हैं। जरा गौर कीजिए, गोलूवाला में एक ब्यूटी पार्लर संचालिका को जिंदा जला दिया जाता है।

सभ्य समाज के लिए शायद इससे बड़ा सदमा और कुछ हो भी नहीं सकता है। खास बात है कि वारदात के तीन दिन बाद भी आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। केरोसिन से जलाई गई महिला ने आखिरकार 48 घंटे बाद शुक्रवार-शनिवार मध्य रात इलाज के दौरान जयपुर के एसएमएस अस्पताल में दम तोड़ दिया।

पोस्टमार्टम की कार्रवाई के बाद शव परिजनों के सुपुर्द किया गया है। पीड़िता का शव देर रात को जिला अस्पताल में रखवाया गया। रात को एडीजी नैना सिंह गोलूवाला पहुंची। वहीं मामले की जांच एसीएसटी सेल के डीएसपी देवानंद को सौंपी गई है। उधर, मामले के तीसरे दिन पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है।

हालांकि पुलिस ने आग लगाने के समय इस्तेमाल किए दस्ताने बरामद किए हैं। पुलिस ने एक दुकान से तेल का सैंपल भी लिया है। वहीं शनिवार दिनभर एसपी ने गोलूवाला में डेरा डाले रखा। देर शाम बीकानेर आईजी प्रफुल्ल कुमार भी गोलूवाला पहुंचे लेकिन पुलिस के हाथ घटना को लेकर कुछ भी नहीं लगा।

इधर, तीन बजे के करीब प्रभारी मंत्री बीडी कल्ला मृतका के घर पहुंचे और परिवार को ढांढ़स बंधाया। इस दौरान हनुमानगढ़ कलेक्टर जाकिर हुसैन, एसपी प्रीति जैन साथ थी। उन्होंने परिवार के लोगों को सीएम राहत कोष से पांच लाख की राशि का चेक सौंपा।

हालांकि एकबारगी माहौल तनावपूर्ण हो गया था, जब प्रभारी मंत्री मृतका के घर पहुंचे तब मौके पर मौजूद भाजपा कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी। पुलिस ने बीच-बचाव कर माहौल शांत किया। वहीं अपराह्न 3 बजकर 30 मिनट पर बीकानेर आईजी प्रफुल्ल कुमार भी गोलूवाला पहुंच गए। वे सीधे थाने पहुंचे। उन्होंने मामले को लेकर फीडबैक लिया। अब तक कार्रवाई में की गई जांच को लेकर एसपी से स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने मामले से जुड़े हर एक एंगल की जानकारी ली।

मौत की सूचना के बाद बेटी ने गेट पर लिखा ‘आई लव यू मां’
मृतका की बेटी को जब ये पता चला की उसकी मां अब इस दुनिया में नहीं रही तो उसने मां के कमरे के गेट पर लिखा आई लव यू मम्मा। पीड़िता की नानी से घटना को लेकर सवाल किया गया तो वो सुबक कर रोने लगी। आक्रोशित भाव से बोली मेरा मन करता है कि आरोपी को साथ जला दूं।
प्रभारी मंत्री कल्ला पांच लाख का चेक सौंपने लगे तो लोगों ने सहायता राशि बढ़ाने और सरकारी नौकरी देने की उठाई मांग
जब प्रभारी मंत्री बीडी कल्ला मृतका के घर पहुंचे तब भाजपा एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच तकरार हो गई। पुलिस ने बीच-बचाव कर माहौल को शांत किया। उधर, जब बीड़ी कल्ला मृतका की पुत्री एंव नानी को पांच लाख का चेक सौंपने लगे तो मौक़े पर उपस्थित लोगों ने चेक लेने से इंकार कर दिया।

उनकी मांग थी कि सहायता राशि बढ़ाई जाए और मृतका की पुत्री को सरकारी नौकरी का सरकार लिखित में समझौता करे। लगभग 20 मिनट तक इस मुद्दे पर बहस चलती रही। फिर प्रभारी मंत्री, कांग्रेस नेता विनोद गोठवाल, कलेक्टर जाकिर हुसैन आदि ने किसी एनजीओ से सहायता राशि दिलवाने और मृतका की पुत्री को सरकारी नौकरी का आश्वासन देने के बाद माहौल शांत हुआ। पीड़िता के परिजनों ने आरोपी के गिरफ्तार करने की भी मांग की।

मृतका के घर लगा रहा नेताओं का जमावड़ा, जांच बदली
गोलूवाला में बीडी कल्ला के साथ हनुमानगढ़ नगरपरिषद के चेयरमैन गणेशराज बंसल, पीलीबंगा नगरपालिका चेयरमैन सुखचैन रमाणा, पूर्व एमपी भरतराम मेघवाल, पीलीबंगा से कांग्रेस के नेता विनोद गोठवाल, पीलीबंगा पंचायत समिति प्रधान प्रतिनिधि बलविंदर बरोड़, भाजपा एससी मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष कैलाश मेघवाल, भाजपा के देहात मंडल अध्यक्ष जगतारसिंह मृतका के घर पहुंचे।
राज्य सरकार हाय हाय के लगे नारे
मृतका के घर आज राजनीति के अलग अलग पड़ाव देखने को मिले। सीटू के कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगा। तो एससी मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष कैलास मेघवाल के नेतृत्व में भाजपा के कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए। जैसे ही प्रभारी मंत्री मौके पर पहुंचे भाजपा के कार्यकर्ताओं ने राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। राज्य सरकार हाय हाय, मुख्यमंत्री होश में आयो होश में आयो के खूब नारे लगे।

बेटी को रोते देख एसपी ने लगा लिया गले
अपनी मां की मौत की सूचना मिली तो मृतका की बेटी का रोना बन्द नहीं हो रहा था। तब खुद एसपी प्रीति जैन ने उसे गले लगाया और चुप कराने की कोशिश की। लेकिन बेबसी इतनी की आंसू रोके नहीं रुक रहे थे।

मामले की तह तक पहुंचने के प्रयास जारी है: एसपी
नानी ने मामला दर्ज करवाया है। शक जताने वाले प्रदीप बिश्नोई को राउंडअप कर रखा है। सीसीटीवी और तकनीकी सहायता से मामले की तह तक पहुंचने का प्रयास जारी है। दस्ताने बरामद किए हैं। सीसीटीवी में एवं जिस पर शक जताया है, वो दोनों अलग-अलग हैं। पुलिस जघन्य अपराध करने वाले तक पहुंचने में जल्द सफलता हासिल करेगी। वायरल वीडियो पर उन्होंने कहा कि जिसका पीड़िता ने नाम लिया है वह ऑलरेडी मामले में नामजद है। पुलिस हर एक साक्ष्य को ध्यान में रखकर अनुसंधान कर रही हैं। -प्रीति जैन, एसपी, हनुमानगढ़

खबरें और भी हैं...