पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जीएम दौरे से पहले तैयारी:डीआरएम ने जांची व्यवस्थाएं, बोले- निर्माण कार्यों में गुणवत्ता जांच के लिए सैंपल भेजे हैं, रिपोर्ट आने पर की जाएगी कार्रवाई

हनुमानगढ़5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीआरएम ने किया निरीक्षण, कर्मचारियों ने जर्जर क्वार्टरों की समस्या से कराया अवगत

उत्तर-पश्चिम रेलवे महाप्रबंधक के 26 फरवरी को प्रस्तावित दौरे के मद्देनजर बीकानेर मंडल रेल प्रबंधक एसके श्रीवास्तव ने मंगलवार को जंक्शन रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया। उन्होंने आरपीएफ थाना, लॉबी, रेलवे स्टेशन, प्लेटफार्म, रेलवे कॉलोनी, निर्माणाधीन सेकंड विंडो आदि का निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान रेलवे कर्मचारियों ने भी डीआरएम को जर्जर क्वार्टरों की समस्या से अवगत कराया।

महिला रेलवे कर्मी मनोहरी देवी ने डीआरएम के समक्ष गुहार लगाते हुए कहा कि के ट्रेफिक कॉलोनी में आवंटित उसके क्वार्टर की छत की पट्टी टूटी हुई है। उसने कई बार अधिकारियों को अवगत करवा दिया लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई बल्कि उसे जल्दी क्वार्टर खाली करने को कहा जा रहा है। अन्य कर्मचारियों को आवास आवंटित किए जा रहे हैं।

इस पर डीआरएम एसके श्रीवास्तव ने समस्या समाधान के लिए आश्वस्त किया। रेलवे कॉलोनी के निरीक्षण के दौरान क्वार्टरों में रह रहे कर्मचारियों के परिवार की महिलाओं ने सड़क के लेवल से क्वार्टर काफी नीचे होने की समस्या से अवगत कराते हुए बताया कि बारिश के समय क्वार्टरों में पानी घुसने से परेशानी का सामना करना पड़ता है।

इस पर डीआरएम ने कहा कि करीब 60 क्वार्टर हैं जो सड़क से नीचे हैं। यह बात भी सामने आई है कि पहले भी यही स्थिति थी लेकिन अब क्वार्टर और ज्यादा नीचे हो गए हैं। उन्होंने कहा कि रेलवे के पास फंड की कमी है। ऐसे में हर वर्ष 10-10 क्वार्टर के पुनर्निर्माण का प्रपोजल बनाकर समस्या हल कराएंगें।

वहीं जहां भी ड्रेनेज में सुधार संभव है, वहां सुधार करवाया जाएगा। डीआरएम ने कहा कि रेलवे यात्रियों और समस्याओं को चिन्हित कर हल करने के साथ ही यात्री सुविधाओं में विस्तार को लेकर निरीक्षण किया जा रहा है। रेलवे स्टेशन परिसर में लगा राष्ट्रीय ध्वज निर्धारित ऊंचाई पर न लगे होने की शिकायत पर डीआरएम ने मौके पर मौजूद आरपीएफ अधिकारियों को निर्देशित कर मानक अनुसार लगवाने की हिदायत दी।

नागरिक-सामाजिक संगठनों से जुड़े लोगों ने सौंपे ज्ञापन, रेल सुविधाओं के विस्तार की मांग

उत्तर-पश्चिम रेलवे जोनल रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति के सदस्य राजेंद्र चौधरी के नेतृत्व में डीआरएम को सौंपे गए ज्ञापन में ट्रेन नंबर 12191/92 जबलपुर निजामुदीन श्रीधाम सुपर फास्ट एक्प्रेस का विस्तार वाया रेवाड़ी सादुलपुर हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर तक करने, हनुमानगढ़ जंक्शन (एचएमएच) रेलवे स्टेशन पर वाशिंग लाइन का निर्माण करवाने, ट्रेन नंबर 12991/92 उदयपुर सिटी जयपुर इंटरसिटी का विस्तार वाया झुंझुनूं हनुमानगढ़-श्रीगंगानगर तक करने, अनुव्रत एक्सप्रेस का विस्तार वाया भटिंडा- हनुमानगढ़, फिरोजपुर तक करने, ट्रेन नंबर 19708 श्रीगंगानगर-बांद्रा अमरापुर अरावली एक्सप्रेस का समय पूर्व समय सारणी के अनुसार हनुमानगढ़ से चलने का समय रात्रि 11 बजे एवं जयपुर पहुंचने का समय सुबह 8 बजे तय करने की मांग की। वहीं रेल विकास संघर्ष समिति के अध्यक्ष नारायण अग्रवाल के नेतृत्व में विशु वर्मा, विशंभर कुमार, गजानंद शर्मा, कुलदीप सिंह, रमेश कुमार आदि ने हनुमानगढ़ जंक्शन रेलवे स्टेशन पर वाशिंग लाइन शुरू करने की मांग की।

हनुमानगढ़ रेल विकास संघ ने भी वाशिंग लाइन का निर्माण करवाने के अलावा प्लेटफार्म 2-3 पर मीटर गेज के समय से बने हुए टीन शैड का ब्रॉडगेज के अनुसार विस्तार करने, पर्याप्त जमीन की उपलब्धता को देखते हुए हाई आइलैंड प्लेटफार्म नंबर 4-5 का निर्माण करने तथा बुजुर्गों और महिलाओं के लिए लिफ्ट, एक्सलेटर की सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की।

वहीं रेलवे के यातायात विभाग में सेवारत गुरदयाल सिंह ने नए आवास आवंटित करने की मांग की। इसके अलावा पुराने आवासों में रह रहे मदनसिंह, अरविंद कुमार, रवि कुमार, राकेश कुमार, अमित शर्मा, अमनकांत, राजकुमार, हीरालाल, अशोक कुमार आदि ने भी नए आवास आवंटित करने की मांग का ज्ञापन सौंपा।

सीधी बात, एसके श्रीवास्तव, डीआरएम, बीकानेर

सांसद ने निरीक्षण के दौरान रेलवे स्टेशन पर निर्माण कार्यों में घटिया निर्माण सामग्री के इस्तेमाल की शिकायत की थी, इस संबंध में क्या कोई कार्रवाई होगी?
निर्माण सामग्री घटिया है या बढ़िया इसका पता लैब से सैंपल रिपोर्ट के बाद ही पता चलता है। सांसद की शिकायत पर सैंपल लेकर जांच के लिए लैब भिजवाए गए हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई की जा सकेगी।
जंक्शन में गांधीनगर साइड बनाई गई सैकंड विंडों कब तक शुरु होगी, इसको लेकर रेलवे का क्या प्लान है?
सैकंड विंडो का काम चल रहा है। कोरोना के कारण काम धीमी गति से चला। वर्तमान में यात्रीभार भी ज्यादा नहीं है। धीरे-धीरे जैसे हालात सामान्य हो रहे हैं वैसे ही सेकंड विंडो जल्द शुरू की जाएगी।
जीएम का यह निरीक्षण रुटीन का है या इसमें सुविधा विस्तार से पहले कोई विशेष निरीक्षण है?
रेलवे में निरीक्षण होते रहते हैं। रेलवे में जो काम होता है उसमें रहने वाली कमियों को दूर करने के लिए हर स्तर पर उसका निरीक्षण किया जाता है। इसके तहत 26 फरवरी को जीएम का दौरा प्रस्तावित है लेकिन रेलवे में कार्यक्रम बदलते रहते हैं। दौरे के दौरान जीएम पूरे जोन का निरीक्षण करेंगे।
पैसेंजर ट्रेनों का संचालन शुरु नहीं होने से लोग परेशान हैं, इसको लेकर आपका क्या कहना है?
कोरोना लॉकडाउन के बाद से ट्रेनों के संचालन को लेकर रेलवे बोर्ड इसको लेकर निर्णय ले रहा है। कई ट्रेनों को स्पेशल ट्रेन के नाम से चलाया जा रहा है ताकि कोविड गाइडलाइन की पालना के साथ यात्री आवागमन कर सकें। पैसेंजर ट्रेनों को लेकर जल्द निर्णय होने की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें