आगाज:जिले में 9 केंद्रों पर शुरू हुई गेहूं की सरकारी खरीद, जंक्शन मंडी में वाहनों के प्रवेश को लेकर हुआ विवाद, वार्ता में बनी सहमति

हनुमानगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जंक्शन, टाउन व डबलीराठान में पहले दिन 92 हजार बैग खरीद का तय किया लक्ष्य, देर शाम तक तौल का चला काम
  • संगरिया में नैफेड खरीद कर रही, पीलीबंगा सहित कई केंद्रों पर कल खरीदा जाएगा गेहूं

जिले में गेहूं की सरकारी खरीद सोमवार को शुरू हो गई। पहले दिन 9 केंद्रों पर एफसीआई और एक केंद्र पर नैफेड ने समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीद की। हनुमानगढ़ जंक्शन, टाउन, डबलीराठान, नोहर, भादरा, संगरिया, गोलूवाला, टिब्बी, तलवाड़ाझील में गेहूं की खरीद प्रारंभ हो गई।

संगरिया में नैफेड द्वारा खरीद की जा रही है, जबकि बाकी केंद्रों पर एफसीआई खरीद कर रही है। हनुमानगढ़ जंक्शन, टाउन और डबलीराठान में पहले दिन 92 हजार बैग यानी 46 हजार क्विंटल खरीद का लक्ष्य तय किया गया। देर शाम तक तौल का कार्य चलता रहा। कोरोना गाइडलाइन के अनुसार प्रशासन के निर्देशानुसार मंडी समिति द्वारा लागू की गई टोकन व्यवस्था के चलते जंक्शन मंडी में किसानों और कार्मिकों के बीच मामूली विवाद हुआ।

प्रशासनिक अधिकारियों की मध्यस्थता के बाद किसान, व्यापारी और अधिकारियों के बीच गेहूं लेकर आने वाले वाहनों के प्रवेश को लेकर सहमति बन गई। कृषि विपणन विभाग के अधिकारियों के अनुसार रावतसर, पीलीबंगा, जाखड़ांवाली केंद्र पर बुधवार से खरीद शुरू होगी। सभी मंडियों में पर्याप्त बारदाना पहुंच गया है।

रोटेशन वार दुकानें खोलने को लेकर पास जारी किए जा रहे हैं। व्यापारियों, किसानों व श्रमिकों से मंडियों में कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करने की अपील की गई है। मंडियों में प्रवेश द्वार पर वॉशबेसिन लगाए गए हैं। कार्मिकों की ड्यूटी लगाई गई है। किसानों को मंडी समिति की ओर से मास्क का भी वितरण किया जा रहा है। किसानों के लिए व्यापारियों को पास दिए गए हैं। इसके साथ रोटेशन वार जो दुकानें खुलेगी उन व्यापारियों व मुनीमों को भी पास जारी किए गए हैं।

मंडी समिति के सचिव सीएल वर्मा ने बताया कि खरीद के दौरान कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन किया जा रहा है। व्यापारियों और किसानों से भी गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करने की अपील की गई है।

टोकन के नाम पर धानमंडी परिसर में वाहनों को प्रवेश करने से नहीं रोकेंगे, अधिकारी बोले- जिस दिन का पंजीयन उसी दिन लेकर आएं उपज
कृषि उपज मंडी में वाहनों के प्रवेश को लेकर आक्रोशित किसानों ने मंडी समिति का घेराव किया। अखिल भारतीय किसान सभा के तत्वावधान में किसानों की तहसीलदार दानाराम मीणा, मंडी समिति सचिव सीएल वर्मा व एफसीआई के क्वालिटी इंस्पेक्टर के साथ वार्ता हुई। इसमें किसानों ने कहा कि किसान मंडी में उपज लेकर आते हैं तो कार्मिक वाहनों को रोकते हैं। ऐसे में उन्हें भारी परेशानी होती है।

इस पर अधिकारियों ने कहा कि जिस दिन का पंजीयन हो उसी दिन किसान गेहूं लेकर मंडी में आए ताकि खरीद होने से किसानों को भी परेशानी न हो। अगर कोई किसान एक दिन पहले उपज लेकर आ जाएगा तो उन्हें नहीं रोकने पर भी सहमति बनी। इस मौके पर किसान संगठन की ओर से रुलदू सिंह, रोशन लाल शर्मा, छोटू सिंह, गुरप्रीत सिंह, कर्णवीर सिंह, गुरपविंद्र मान, शैलेंद्र मेघवाल, भोलू सिंह, जगदीश तंवर, जगदीश मेघवाल, नेहरुराम भाट, अमनदीप सिंह आदि मौजूद रहे। व्यापारियों की ओर से व्यापार मंडल के अध्यक्ष प्यारेलाल बंसल, व्यापार संघ के अध्यक्ष महावीर सहारण, पदम चंद जैन भी मौजूद रहे।

टाउन मंडी में व्यापारियों ने किसान को माला पहनाकर मुंह मीठा करवाया फिर कराई गेहूं खरीद की शुरुआत
टाउन धानमंडी में एफसीआई की ओर से सोमवार को दुकान नंबर 101 से गेहूं खरीद की शुरुआत की गई। फूडग्रेन मर्चेंट्स एसो. के अध्यक्ष आशीष हिसारिया ने बताया कि एफसीआई के किस्म निरीक्षक विजेंद्र कुमार की ओर से गेहूं खरीद की शुरुआत की गई। इससे पहले किसान को मंडी के वरिष्ठ व्यापारी विशंभर लाल गोयल एवं गोपीराम गुप्ता ने माल्यार्पण कर मुंह मीठा करवाया। इसके बाद सरकारी खरीद शुरू करवाई गई।

व्यापारी और किसान इस दौरान उत्साहित नजर आए। इस मौके पर फूडग्रेन उपाध्यक्ष संतराम जिंदल, सचिव विजय गर्ग, कोषाध्यक्ष विक्रमजीत संधा, सहसचिव रमेश काठपाल, रमन सर्राफ, अरुण कामरा, संजय जैन, जिनेंद्र जैन बेबी, संजय पूनिया, कृष्ण घोड़ेला, भीमराज देग, श्रीभगवान, धनराज जैन, विनोद खदरिया, सन्नी जुनेजा, अजय कुमार, इंद्राज देग, अरविंद बिश्नोई, प्रेमकुमार बंसल, प्रेम सिंवर, रामलाल किरोड़ीवाल, वेदप्रकाश घोटिया, दीपक गोयल, हरबंस लाल, प्रकाश रोझ, महावीर मोदी, संदीप कुमार आदि व्यापारीगण मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...