सड़क हादसा:कोहरे के पहले दिन मेगा हाईवे पर सड़क हादसों में 2 बारातियों सहित तीन की मौत

हनुमानगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में कोहरा छाने के पहले दिन सोमवार रात व मंगलवार सुबह सड़क हादसों में दो बारातियों सहित तीन जनों की मौत हो गई जबकि 9 से अधिक लोग घायल हो गए। घायलों में दो की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल से श्रीगंगानगर भर्ती कराया है। रावतसर के गांव गांव खोड़ां के समीप सोमवार रात चक 2 सीएलडी के राकेश पुत्र धर्मपाल की बारात टिब्बी के गांव सूरांवाली गई थी। रात करीब 9 बजे बारात वापस लौट रही थी। धुंध के कारण अज्ञात वाहन ने ब्रेक लगा दिए, जिससे भिड़ंत होने से हादसा हुआ।

कार संदीप पुत्र गुलाब सिंह चला रहा था। इस घटना में गंभीर घायल रामनिवास पुत्र ओमप्रकाश निवासी चक 2 सीएलडी की रावतसर सीएचसी लेकर गए तो उपचार के दौरान मौत हो गई जबकि रामनिवास पुत्र बुधराम निवासी खोड़ां को जिला अस्पताल में मृत घोषित कर दिया। वहीं विजय पुत्र राजेश निवासी खोड़ां सीएचसी में भर्ती है जबकि सुरेंद्र पुत्र दयाल निवासी 2 सीएलडी व संदीप पुत्र गुलाब सिंह निवासी जैसापट्टी को श्रीगंगानगर निजी अस्पताल ले गए। पुलिस ने लक्ष्मण पुत्र नानकराम कुम्हार निवासी खोडां की सूचना पर केस दर्ज किया है।

वहीं अलग-अलग हादसों में छह-सात जने घायल हो जिला अस्पताल पहुंचे, जिनकी हालत खतरे से बाहर है। इसमें भीमसैन लीलांवाली, राकेश, प्रहलाद, संदीप, बरमी देवी, सुरेश कुमार व हरबंस सिंह उपचाराधीन हैं।

दूसरा हादसा

हाइवे पर शेरगढ़ के पास टाउन में मंगलवार दोपहर ट्रेलर और कैंटर की भिड़ंत हो गई। कैंटर सवार श्यामसुंदर उर्फ कान्हाराम (55) निवासी मटोरियांवाली ढाणी की मौत हो गई, साथी प्रहलाद व राकेश और ट्रेलर ड्राइवर संदीप (22) निवासी राणीसर, बीकानेर घायल हो गया। सुबह करीब साढ़े 11 बजे पत्थर से भरा कैंटर मटोरियांवाली ढाणी से हनुमानगढ़ जा रहा था। ट्रेलर जयपुर की ओर जा रहा था। शेरगढ़ रोही चक 14 एमडी के पास ट्रेलर और कैंटर में भिड़ंत हुई।

दोनों वाहनों के केबिन क्षतिग्रस्त हो गए, सवार चारों लोग फंस गए। काफी मशक्कत के बाद चारों को बाहर निकाल हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां डॉक्टर्स ने श्यामसुंदर को मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि हादसा धुंध में तेज रफ्तार के कारण हुआ।

खबरें और भी हैं...