मानसून से सड़कों पर बने जगह-जगह गड्‌ढे:जिला मुख्यालय पर सड़कों की खस्ता हालत से लोग परेशान, दुकानदारों का काम भी हो रहा है प्रभावित, बड़े-बड़े गड्ढों से निकलना बनी मजबूरी

हनुमानगढ़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बारिश के बाद टूटी हुई संगरिया रोड। - Dainik Bhaskar
बारिश के बाद टूटी हुई संगरिया रोड।

हनुमानगढ़ जिले में इस साल मानूसन खत्म होने को है, लेकिन जिला मुख्यालय की सड़कों पर इसके निशां बाकी हैं। इस साल बारिश के दौरान जिला मुख्यालय पर जंक्शन में अधिकांश सड़कें बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी है। सबसे बुरी स्थिति संगरिया रोड की है। यह सड़क हनुमानगढ़ विधायक चौधरी विनोद कुमार के आवास की ओर ले जाती है, लेकिन यहां स्थिति यह है कि गड्‌ढों के बीच सड़क ढूंढनी पड़ती है। कई जगह तो तीन-चार फीट गहरे गड्‌ढे हो चुके हैं। यहीं हालत चूना फाटक से तिलक सर्किल की ओर जाने वाली सड़क की भी है। यहां भी बारिश का पानी भरा रहने के कारण बड़े गड्‌ढे बन गए हैं।

मुख्य बाजार में अलग तरह की परेशानी झेलनी पड़ रही है। यहां करीब एक साल से नाला निर्माण का कार्य जारी है, जो कि पूरा होने का नाम ही नहीं ले रहा। इस कारण हर रोज गंदे पानी की निकासी के लिए पंप लगाए जाते हैं और यह सड़कों पर पसरा रहता है। इसके अलावा अन्य सड़कें भी क्षतिग्रस्त हालत में हैं।

पीडब्ल्यूडी की सड़कें बदहाल
जिला मुख्यालय पर नगर परिषद ने अधिकांश सड़कों को निर्माण करवाया है। कई सीसी रोड भी बनाई गई हैं, लेकिन पीडब्ल्यूडी के अधीन आने वाली सड़कों की हालत खस्ता है। पीडब्ल्यूडी कई सड़कों के टेंडर नहीं कर रही है तो कुछ जगह टेंडर होने के बावजूद ठेकेदार काम करने को तैयार नहीं हैं। संगरिया रोड के टेंडर की बात भी लंबे समय से कही जा रही है, लेकिन यहां ठेकेदार टेंडर लेने के बावजूद काम नहीं कर रहा है। उधर, पीडब्ल्यूडी महज अमानत राशि जब्त करने की कार्रवाई ही कर पा रहा है।

पानी निकासी नहीं होने से समस्या
बारिश के दिनों में सड़कों के टूटने की समस्या सामने आती है, लेकिन इसमें भी बड़ी वजह पानी निकासी की सही व्यवस्था नहीं होना है। बारिश के बाद कई दिनों तक सड़कों पर पानी खड़ा रहता है। जिसके चलते बड़े गढ्डे बन जाते है। अधिकांश सड़कों पर नालों का लेवल सड़क से ऊंचा है, जिस कारण पानी निकासी नहीं हो पाती। खास बात यह है कि नई सड़क बनाते समय भी लेवल को सही नहीं किया जाता। जिससे सड़के बार-बार टूटती हैं।

प्रभावित हो रहा व्यवसाय
त्यौहारों के सीजन में सड़कों की खस्ता हालत के चलते दुकानदारों का व्यवसाय प्रभावित हो रहा है। क्षतिग्रस्त सड़कों पर जाने की हिम्मत वाहन चालक नहीं जुटा पाते। इस कारण ग्राहकी नहीं के बराबर है। मुख्य बाजार में भी नाला निर्माण के चलते दुकानों के सामने कई फीट गहरा गड्ढा खोद दिया जाता है। इस कारण इन दुकानों का काम भी ठप है और रोज विवाद की स्थिति रहती है।

संगरिया रोड का टेंडर किया गया था, लेकिन ठेकेदार ने काम नहीं किया। जल्द ही दोबारा टेंडर कर काम शुरू करवाया जाएगा।
गुरनाम सिंह, एसई, पीडब्ल्यूडी

सड़कों की खस्ता हालत के कारण काम प्रभावित हो रहा है। पहले लॉकडाउन के चलते कई महीने खराब हुए और अब त्यौहार के सीजन में सड़कों व नालों के कारण काम ठप है।
ललित कुमार, दुकानदार

खबरें और भी हैं...