आदेश जारी:कनिष्ठ तकनीकी सहायक की बर्खास्तगी पर हाईकोर्ट की राेक, कलेक्टर से जवाब मांगा

हनुमानगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान उच्च न्यायालय जोधपुर ने भादरा पंचायत समिति के कनिष्ठ तकनीकी सहायक मालूराम गोस्वामी की सेवा बर्खास्तगी के आदेश पर राेक लगा दी है। हनुमानगढ़ के कलेक्टर ने 26 जुलाई,2021 के मालूराम गाेस्वामी की सेवा बर्खास्त करने के आदेश जारी किए थे। हाईकोर्ट ने कलेक्टर के उक्त आदेश पर यथास्थिति बनाए रखने के आदेश जारी किए हैं।

इस संबंध में हनुमानगढ़ कलेक्टर से 6 सप्ताह में जवाब मांगा है। हनुमानगढ़ कलेक्टर के आदेश में ग्राम पंचायत रामगढ़िया तहसील भादरा के एक कृषक द्वारा पक्का खाला निर्माण में लेवल नीचे रखने पर, आगे के किसानों को सिंचाई की आपूर्ति बहाल नहीं हो पाने की टिप्पणी करते हुए कहा था कि इससे खाला निर्माण पर संपूर्ण सरकारी खर्च बेकार हो गया।

इस संबंध में जांच के लिए चार सदस्यों की कमेटी गठित की गई थी। जांच के बाद पाया गया की खाला निर्माण ठीक से नहीं किया गया। हनुमानगढ़ कलेक्टर के आदेश के िखलाफ परिवादी कनिष्ठ तकनीकी सहायक मालूराम ने अधिवक्ता शंकरदयाल गोस्वामी के माध्यम से उच्च न्यायालय जोधपुर में याचिका पेश की थी।

इसमें आग्रह किया था कि जिला कलेक्टर का आदेश न्यायसंगत नहीं है। याचिका में तर्क दिया गया कि नोटिस 2020-21 एवं 2021-22 के काम में त्रुटि के वास्ते दिया गया, परंतु जांच सन 2016-17 के काम की हुई। उस जांच रिपोर्ट में प्रार्थी के खिलाफ कोई गलती नहीं पाई गई, फिर भी सेवा से बर्खास्त कर दिया गया। उच्च न्यायालय ने तमाम दस्तावेजों का परीक्षण करने के बाद कलेक्टर के आदेश के क्रियान्वयन एंव प्रभाव को स्थगित कर नोटिस जारी किया है।

खबरें और भी हैं...